नई दिल्ली, तेजिंदर बग्गा को आखिरकार कुरुक्षेत्र से दिल्ली लाया जा रहा है, रात 9 बजे दिल्ली पुलिस उन्हें गुरुग्राम में जज के घर पेश करेगी. हरियाणा पुलिस ने बग्गा को दिल्ली पुलिस को सौंप दिया और पंजाब पुलिस खाली हाथ रह गई. इधर, द्वारका कोर्ट पहुंचते ही पंजाब पुलिस के डीएसपी केएस संधू को भाजपा कार्यकर्ताओं के भारी विरोध का सामना करना पड़ा, जिसपर उन्होंने कहा कि, हमने तेजिंदर बग्गा के मामले में न्यायिक प्रक्रिया का पालन किया.

बग्गा की गिरफ्तारी पर हुआ ड्रामा

इससे पहले भाजपा नेता तजिंदर पाल बग्गा की गिरफ्तारी को लेकर बड़ा ड्रामा हुआ, सबसे पहले पंजाब पुलिस ने बग्गा के आवास पर पहुंचकर उन्हें गिरफ्तार किया और जब वह बग्गा को अपने साथ लेकर पंजाब जाने लगी तो रास्ते में हरियाणा पुलिस ने पंजाब पुलिस को रोक दिया, फिर हरियाणा पुलिस ने बग्गा को दिल्ली पुलिस को सौंपा. मामले में दिल्ली पुलिस ने तर्क दिया कि पंजाब पुलिस ने बिना उन्हें कोई सुचना दिए बग्गा की गिरफ्तारी की है.

अब बग्गा की गिरफ्तारी पर पंजाब कांग्रेस के पूर्व प्रमुख नवजोत सिंह सिद्धू ने केजरीवाल और भगवंत मान को पापी करार किया है. सिद्धू ने ट्वीट किया, “तजिंदर बग्गा अलग पार्टी से हो सकते हैं, उनके साथ आपके वैचारिक मतभेद भी हो सकते हैं, लेकिन पंजाब पुलिस के माध्यम से व्यक्तिगत हिसाब चुकता करने के लिए अरविंद केजरीवाल और भगवंत मान का इस तरह राजनीतिक प्रतिशोध लेना एक पाप है… मान और केजरीवाल पंजाब पुलिस का राजनीतिकरण कर उसकी छवि खराब करना बंद करें.”

लौट कर बग्गा दिल्ली आए

इस मामले में पंजाब सरकार की तरफ से मांग की गई थी कि बग्गा को दिल्ली न ले जाकर हरियाणा में ही रखा जाए, लेकिन पंजाब एंड हरियाणा हाई कोर्ट ने पंजाब सरकार की मांग को ठुकराया. साथ ही बग्गा के परिवार ने पंजाब पुलिस से अपनी जान का खतरा बताते हुए दिल्ली पुलिस से सुरक्षा की मांग की है. फिलहाल, दिन भर की पकड़म पकड़ाई के बाद दिल्ली पुलिस बग्गा को लेकर दिल्ली आ रही है.

 

केजरीवाल का नया प्लान: मुफ्त बिजली सबको नहीं, पूछेंगे विकल्प

SHARE

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर