Wednesday, September 28, 2022

संबित पात्रा की प्रेस कांफ्रेंस: WHO का डेटा और कांग्रेस का ‘बेटा’ दोनों गलत हैं

संबित पात्रा की प्रेस कांफ्रेंस: WHO का डेटा-कांग्रेस का ‘बेटा’ दोनों गलत हैं

नई दिल्ली। विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) द्वारा जारी कोरोना मौतों के आंकड़ों को लेकर कांग्रेस और भाजपा के बीच वाकयुद्ध छिड़ गया है. भाजपा ने शुक्रवार को कांग्रेस सांसद राहुल गांधी पर देश में कोविड-19 से हुई मौतों पर राजनीति करने का आरोप लगाया. देश में कोरोना वायरस से अधिक मौतों पर डब्ल्यूएचओ द्वारा साझा किए गए अनुमान को खारिज करते हुए भाजपा ने कहा कि डब्ल्यूएचओ का डेटा और कांग्रेस का ‘बेटा’ दोनों गलत हैं.

संबित पात्रा का राहुल पर हमला

बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा ने प्रेस कांफ्रेंस में कहा कि भारत में कोरोना वायरस से होने वाली मौतों की अनुमानित गणना करने के लिए WHO का तरीका गलतियों से भरा है. उन्होंने कहा कि भारत में जन्म और मृत्यु के पंजीकरण के लिए एक मजबूत तंत्र है. डब्ल्यूएचओ का आंकड़ा और कांग्रेस का बेटा गलत हैं.

राहुल ने पीएम पर साधा था निशाना

संबित पात्रा आगे कहा कि कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने 2014 से बार-बार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की छवि खराब करने की कोशिश की है और इस प्रक्रिया में भारत की छवि पर हमला किया है. इससे पहले राहुल गांधी ने पीएम मोदी पर भारत के COVID-19 टोल पर झूठ बोलने का आरोप लगाया था.

राहुल ने WHO की रिपोर्ट शेयर

डब्ल्यूएचओ की रिपोर्ट को साझा करते हुए राहुल गांधी ने कहा कि 47 लाख भारतीयों की मौत कोविड महामारी से हुई, 4.8 लाख नहीं. उन्होंने आगे सत्तारूढ़ सरकार से आग्रह किया कि जो लोग कोरोना के कारण मारे गए हैं, उनके परिवारों को 4 लाख का मुआवजा देकर उनका समर्थन करें.

उन्होंने ट्विटर पर पोस्ट किया कि कोविड महामारी के कारण 47 लाख भारतीयों की मौत हुई है. सरकार के दावों के मुताबिक ‘4.8 लाख’ नहीं, जैसा की सरकार ने दावा किया है. विज्ञान झूठ नहीं बोलता.उन परिवारों का सम्मान करें जिन्होंने अपनों को खोया है. 4 लाख रुपये के मुआवजे के साथ उनका समर्थन करें. WHO की रिपोर्ट को केंद्र ने खारिज कर दिया है. WHO ने कहा है कि भारत में 1 जनवरी 2020 से 31 दिसंबर 2021 के बीच 47 लाख यानी 47 लाख लोग कोरोना के कारण अपनी जान गंवा चुके हैं.

 

केजरीवाल का नया प्लान: मुफ्त बिजली सबको नहीं, पूछेंगे विकल्प

Latest news