नई दिल्ली. Ravidas Temple Demolition Clash In Delhi Tughlakabad: दक्षिण दिल्ली के तुगलकाबाद में फोरेस्ट एरिया स्थित संत रवि दास की मंदिर ढहाने पर विवाद गहरा गया है. बुधवार को तुगलकाबाद में मंदिर तोड़े जाने के विरोध में दलित नेता और भीम आर्मी प्रमुख चंद्रशेखर आजाद समेत सैकड़ों लोगों ने प्रदर्शन किया और इस दौरान जमकर हिंसा हुई. रविदास मंदिर दोबारा बनाए जाने की मांग कर रहे प्रदर्शनकारियों ने कई गाड़ियों में आग लगा दी और नारे लगाए. हिंसा फैलाने के आरोप में चंद्रशेखर समेत करीब 100 प्रदर्शनकारियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. बुधवार को देशभर के 5000 से ज्यादा दलित दिल्ली स्थित रामलीला मैदान पहुंचे थे और उन्होंने दिल्ली में विरोध प्रदर्शन किया. नीली टोपी और जय भीम के नारे लगाते प्रदर्शकारियों की भीड़ से दिल्ली ती सड़के नीली हो गई थीं.

रविदास मंदिर गिराए जाने के विरोध में देशभर के दलित समुदाय के लोग दिल्ली पहुंचकर विरोध प्रदर्शन कर रहे थे. भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर आजाद इस प्रदर्शन की अगुवाई कर रहे थे. एक समय ऐसा आया, जब प्रदर्शन काफी हिंसक हो गया और लोग बातों से विरोध करने की बजाय हाथों और लातों की भाषा बोलने लगे. यहां बता दूं कि बीते दिनों सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद दिल्ली विकास निगम ने तुगलकाबाद में स्थित रविदास मंदिर को तोड़ दिया था. इस घटना के बाद से दलित समुदाय काफी गुस्से में है. इस मामले को लेकर बीते 13 अगस्त को पंजाब में व्यापक प्रदर्शन हुआ था.

रविवाद मंदिर तोड़े जाने पर सियासी बवाल भी बढ़ गया है. जहां दलित नेता चंद्रशेखर इस मामले को लेकर विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं और दिल्ली में ही दूसरी जगह रविदास मंदिर बनाने की मांग कर रहे हैं. प्रदर्शनकारियों की पुलिस से भी झड़प हो गई थी, जिसके बाद पुलिस ने कड़ी कार्रवाई की. रविवाद मंदिर तोड़े जाने पर बढ़े सियासी हंगामे को लेकर दिल्ली की सत्तारूढ़ पार्टी आम आदमी पार्टी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से इस मामले में हस्तक्षेप करने की मांग की है और दूसरी जगह संत और कवि रविदास का मंदिर बनाए जाने की मांग की है.

पूर्वी यूपी कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने गुरुवार सुबह ट्वीट कर लिखा- भाजपा सरकार पहले करोड़ों दलित बहनों-भाइयों की सांस्कृतिक विरासत के प्रतीक रविदास मंदिर स्थल से खिलवाड़ करती है और जब देश की राजधानी में हजारों दलित भाई-बहन अपनी आवाज़ उठाते हैं तो भाजपा उन पर लाठी बरसाती है, आंसू गैस चलवाती है, गिरफ़्तार करती है. दलितों की आवाज़ का ये अपमान बर्दाश्त से बाहर है. यह एक जज़्बाती मामला है उनकी आवाज का आदर होना चाहिए.

Karti Chidambaram On P Chidambaram Arrest: कांग्रेस दिग्गज पी चिदंबरम की गिरफ्तारी पर कार्ति चिदंबरम बोले- नरेंद्र मोदी सरकार ने असली मुद्दों से ध्यान भटकाने के लिए रची है साजिश

P Chidambaram CBI Arrest Timeline: दिल्ली हाईकोर्ट के झटका से सुप्रीम कोर्ट के जमानत से इनकार और फिर सीबीआई की गिरफ्तारी तक, पी चिदंबरम के 29 घंटे लापता होने की पूरी कहानी

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App