नई दिल्ली: पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की आज 28वीं पुण्यतिथि है. राजीव गांधी का जन्म 1944 में हुआ था और वो अमेठी से सांसद बने और फिर कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष और भारत के 6ठे प्रधानमंत्री बने. भारत रत्न राजीव गांधी की छवि एक ऐसे प्रधानमंत्री की रही है जिन्होंने नए भारत की कल्पना की और अपनी दूर दृष्टि से ऐसे फैसले लिए जिसका फल आज की पीढ़ी हो मिल रहा है. एक बार राजीव गांधी ने कहा था कि हर समाज, हर जाति, हर समुदाय को ये अधिकार है कि वो अपना विकास कर सके और इसके लिए जरूरी है कि भारत को एकजुट और अटूट रखा जाए.

1991 में आज ही के दिन आत्मघाती हमले में राजीव गांधी का निधन हो गया था लेकिन तबतक राजीव गांधी भारत के विकास में कई अहम फैसले कर चुके थे जिसने भविष्य के उज्जवल भारत की नींव पड़ गई थी. राजीव गांधी के ऐसे ही कुछ फैसलों के बारे में आपको बताते हैं. 

View this post on Instagram

#RajeevGandhi #May21 #RajeevGandhi #congress #RajeevGandhi #DeathAnniversary #Visionary #RememberingRajivGandhi #RajivGandhi I pay my #Homage to Former Prime Minister Sri #RajivGandhi on his death anniversary. Our nation never Forgot your Contribution to build a new #INDIA On Sh. Rajiv Gandhi's death anniversary today, let us remember a leader who inspired hope and promise among millions of Indians and conceived India as a true global power. #RememberingRajivGandhi #IndiraGandhi #BharatRatna #TransformingIndia #DigitalIndia #RajivGandhi #RajeevGandhi #RememberingRajivGandhi #RajivSadbhavnaDivas #RPI #KajalFlozenTrendz#പ്രണാമം. മെയ് 21..രാജീവ് രക്തസാക്ഷിത്വ ദിനം.

A post shared by Faizin km (@kmfaizin) on

राजीव गांधी ने 6 से 14 साल के बच्चों के लिए शिक्षा का अधिकार लागू कर दिया था जिसमें 25 फीसदी आरक्षण प्राइवेट शिक्षण संस्थानों में भी था यानी 25 फीसदी गरीब बच्चों को प्राइवेट कॉलेजों में मुफ्त शिक्षा. राजीव गांधी पंचायती राज व्यवस्था का निर्माता था. इसके अलावा राजीव गांधी ने भारत को आईटी हब बनाया जिसकी वजह से आज देश के करोड़ों युवा आईटी क्षेत्र से जुड़े हैं और दुनियाभर में आईटी जगत में अपनी अलग पहचान बनाए हुए हैं.

राजीव गांधी ने ही देशभर में 108 इमरजेंसी एंबुलेंस सर्विस की शुरूआत की थी जिससे करोड़ों लोगों को वक्त पर इलाज मिला जिससे उनकी जान बच सकी. इसके अलावा ग्रामीण परिवार के हर व्यक्ति को कम से कम साल में 100 दिन काम देने की योजना भी राजीव गांधी ने ही बनाई थी. राजीव गांधी ने ही कानून बनाया था कि कोई सांसद अगले चुनाव आने तक किसी दूसरी पार्टी में नहीं जा सकता.  

View this post on Instagram

ये चेहरा..ये मुस्कान कोई कैसे भूल सकता है। मेरे सबसे पसंदीदा नेता..बचपन में नेताजी और भगत सिंह के बाद सबसे ज्यादा आपके व्यक्तित्व से ही प्रभवित था। आपकी मुस्कुराहट,सादगी और आपका देश को तकनीकी उन्नति ,लोकतान्त्रिक संस्थाओं की मजबूती व स्वास्थ्य क्षेत्रों में योगदान को इतिहास हमेशा याद रखेगा पूर्व प्रधानमन्त्री राजीव गाँधी जी की पुण्य तिथि पर विनम्र श्रद्धान्जलि 🙏🙏🙏 #rajeevgandhi #inc #congress #india #delhi #raga #rahulgandhi #gandhi #soniagandhi #Congressi #priyankagandhi #indiragandhi

A post shared by Kunal Kumar (@shiva_kunal) on

7th pay commission, 7th pay commission latest news: भाजपा की सत्ता में वापसी से केंद्रीय कर्मचारियों को मिलेगा क्या फायदा, जानें

BJP Namo Tv Shuts Down: लोकसभा चुनाव 2019 पूरे होते ही टीवी पर से गायब हुआ बीजेपी का नमो टीवी, सातवें चरण के बाद प्रसारण बंद

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App