Thursday, December 1, 2022

पायलट पर गरजे गहलोत, कहा- जिसके पास 10 सीट हो वो गद्दार कभी सीएम नहीं बन सकता

जयपुर. राजस्थान कांग्रेस का सियासी घमासान थमता नज़र नहीं आ रहा है. एक बार फिर सचिन पायलट और अशोक गहलोत में खटपट शुरू हो गई है. वहीं दूसरी ओर राहुल गाँधी की भारत जोड़ो यात्रा भी कुछ ही दिनों में राजस्थान आने वाली है, लेकिन इससे पहले ही अशोक गहलोत ने एक बड़ा बयान दे दिया है. उन्होंने पायलट पर बड़ा वार करते हुए कहा कि पायलट को सीएम कैसे बनाया जा सकता है, जिसके पास दस विधायक नहीं हैं, जिसने पार्टी से बगावत की हो, जिसे गद्दार नाम दिया गया हो, उसे लोग मुख्यमंत्री के रूप में स्वीकार भी कैसे कर सकते हैं.

गद्दार को कैसे स्वीकार करेगी जनता

इसी कड़ी में राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि जिस व्यक्ति के कारण हम 34 दिनों तक होटलों में बैठे रहे वो सरकार गिरा रहे थे. जो आदमी पार्टी के साथ गद्दारी कर चुका हो, उनके कारण हमारे एमएलए और मुझे 34 दिनों तक होटलों में रहना पड़ा, ऐसे व्यक्ति को लोग कैसे स्वीकार कर लेंगे.

“आज तो मैं ही सीएम”

वहीं, राजस्थान में भावी मुख्यमंत्री के सवाल पर गहलोत ने कहा कि आज तो मैं ही मुख्यमंत्री हूँ. वहीं, जब उनसे पूछा गया कि क्या उन्हें कुर्सी छोड़ने को लेकर कोई इशारा किया गया तो उन्होंने कहा कि इशारा तो छोड़ों मुझे तो कोई इंडिकेशन भी नहीं मिला. उन्होंने कहा कि वो हाईकमान के साथ हैं और पायलट को कोई भी स्वीकार नहीं करेगा.

“मेरा सीएम रहना ज़रूरी”- गहलोत

इसी कड़ी में गहलोत ने आगे कहा कि हाईकमान राजस्थान के साथ इन्साफ करेगा. सितंबर की बातें हैं, जब उन्होंने अजय माकन और हाईकमान को अपनी फीलिंग बताई थी. राजस्थान में उनकी सरकार का आना ज़रूरी है, उन्होंने कहा कि वो तीन बार सीएम रह चुके हैं और उनके लिए सीएम रहना ज़रूरी है. उन्होंने कहा कि इस बार में सर्वे करवाना चाहिए, अगर उनके सीएम रहने से सरकार आती है तो उन्हें बने रहना चाहिए और अगर दूसरे चेहरे के रहने से सरकार आती है तो उसे मुख्यमंत्री बना देना चाहिए.

 

गलवान पर ऋचा चढ्ढा का विवादित ट्वीट, भड़की बीजेपी बोली- ‘थर्ड ग्रेड एक्ट्रेस पर केस दर्ज हो’

Gujrat: क्या BJP के पास खत्म हो गए हैं मुद्दे?भारत जोड़ो यात्रा में मेधा पाटकर को लेकर हमलावर पीएम

Latest news