कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी आए दिन केंद्र सरकार पर निशाना साधते नज़र आते हैं. हाल ही में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर एक बार फिर उन्होंने मोदी सरकार पर वार किया है. उनका कहना है कि इस सरकार ने 70 साल में बनी देश की जमा पूँजी को बेच दिया है.

देश की रीढ़ कही जाने वाली रेलवेज़ को भी बेचा : राहुल गाँधी

राहुल गाँधी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर मोदी सरकार पर निशाना साधा है. उनका कहना है कि इस सरकार के आने के बाद जो निजीकरण की आंधी चली है उसमें सब कुछ बिक गया है. पहली बार ऐसा हुआ है कि देश में बेरोजगारी की दर इतनी ज्यादा है और सरकार इसपर कोई ध्यान नहीं दे रही है. सरकार पर हमला बोलते हुए उन्होंने आगे कहा कि, ”पीएम सबकुछ बेच रहे हैं, मोदी सरकार ने 1.6 लाख करोड़ का रोडवेज बेच दिया और देश की रीढ़ कही जाने वाली रेलवे को 1.5 लाख करोड़ में बेच दिया. गेल की पाइप लाइन, पेट्रोलियम की पाइपलाइन, बीएसएनल और एमटीएनल को भी केंद्र सरकार ने बेच दिया. वेयरहाउसिंग को भी केंद्र सरकार बेच रही है. रेलवे देश की रीढ़ है, गरीब आदमी एक शहर से दूसरे शहर रेलवे के बिना सफर नहीं कर सकता है. 1.50 लाख करोड़ रुपये रेलवे, 400 स्टेशन, 150 ट्रेनें और रेलवे ट्रैक सरकार बेच रही है. साथ ही उन्होंने रेलवे कर्मचारियों को अगाह करते हुए कहा कि अगर ये रेलवे से छीनकर प्राइवेट कंपनी को दिया जाएगा तो आपके रोजगार पर भी खतरा होगा”.