नई दिल्ली: देश में डाकघरों की व्यापक पहुंच के माध्यम से लोगों तक वित्तीय समावेशन के लाभ पहुंचाने की दिशा में मोदी सरकार बड़ा कदम उठाने जा रही है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज (शनिवार) इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक (आईपीपीबी) का उद्घाटन करेंगे. आधिकारिक बयान के मुताबिक, पीएम मोदी तालकटोरा स्टेडियम में इसका उद्घाटन करेंगे. इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक का उद्घाटन होने के साथ ही आईपीपीबी की 650 शाखाएं और 3,250 सुविधा केंद्र शनिवार से ही काम करना शुरू कर देंगे.

सरकार की तरफ से बयान जारी कर कहा गया है कि आईपीपीबी की स्थापना केंद्र सरकार के वित्तीय समावेशन का लक्ष्य तेजी से पाने के लिए की गई है. इस भुगतान बैंक में भारत सरकार की 100% हिस्सेदारी है. जिसकी कल्पना आम आदमी के लिए सस्ते, भरोसेमंद और आसान पहुंच वाले बैंक के तौर पर की गई है. सरकार का लक्ष्य 31 दिसंबर 2018 तक देश के 1.55 लाख डाकघरों को आईपीपीबी प्रणाली से जोड़ने का है.

आईपीपीबी वित्तीय सेवा उपलब्ध कराने वाला देश का सबसे बड़ा नेटवर्क होगा. डाकियों और ग्रामीण डाक सेवकों की मदद से लोगों के घर तक वित्तीय सेवाएं और डिजिटल भुगतान सेवाएं पहुंचाई जाएंगी. इससे दूरदराज गांव वाले लोगों के लिए खास फायदा होगा. आईपीपीबी डाक घर बचत बैंक के 17 करोड़ सक्रिय खाताधारकों को भी एनईएफटी, आरटीजीएस, यूपीआई और बिल पेमेंट सर्विेस के फायदों समेत डिजिटल पेमेंट करने में समर्थ होगा. आईआईपीबी अपने खाताधारकों को भुगतान बैंक के साथ-साथ चालू खाता, धन हस्तांतरण, प्रत्यक्ष धन अंतरण, बिलों के भुगतान इत्यादि की सेवाएं भी उपलब्ध कराएगा.

अप्रैल 2018 में होगी इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक की शुरुआत, गांवों तक पहुंचेगी सर्विस

पेटीएम ने शुरू किया Payments Bank, कैशबैक ऑफर के साथ ग्राहकों को मिलेगा 4% ब्याज

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App