पटना. पेगासस फोन हैकिंग विवाद पर सोमवार को संसद में जमकर हंगामा हुआ। वहीं बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का भी पेगासस रिपोर्ट पर बयान आया है। उन्होंने कहा कि नई टेक्नॉलोजी का कुछ लोग दुरुपयोग भी करते है।

पत्रकारों से बातचीत करते हुए सीएम नीतीश कुमार ने कहा कि ये गलत है। यह सब गंदी बात है, सब फालतू चीज है, किसी को डिस्टर्ब करना अच्छी बात नहीं है। मेरे हिसाब से बिल्कुल बेकार बात है। नई टेक्नॉलोजी का दुरुपयोग हो रहा है। इसका बुरा असर भी पड़ रहा है।

पेगासस रिपोर्ट को लेकर पूछे गए सवाल का जवाब देते हुए सीएम नीतीश ने कहा कि “हम तो शुरू से कह रहे हैं कि जो नई तकनीक आ गई है वह परेशानी खड़ी करेगी। इसपर विचार करना चाहिए। नई तकनीक से लाभ भी मिलता है लेकिन कुछ लोग उसका दुरुपयोग भी करते हैं।”

देश के कई पत्रकारों, राजनेताओं और दूसरे लोगों की जासूसी के मामले को लेकर मानसून सत्र के पहले दिन आज (सोमवार) संसद में जोरदार हंगामा देखने को मिला है। विपक्ष के हंगामे के बाद केंद्रीय आईटी मंत्री ने लोकसभा में जवाब दिया है। वैष्णव ने इस रिपोर्ट की टाइमिंग पर सवाल उठाते हुए कहा है कि ये तथ्यों से परे है और इसमें सच्चाई नहीं है।

Pegasus Scandal: पत्रकारों के बाद राहुल गांधी और प्रशांत किशोर की भी जासूसी, कांग्रेस ने की गृहमंत्री से इस्तीफे की मांग

Opposition on Pegasus: पेगासस जासूसी पर विपक्ष ने सरकार को घेरा, ओवैसी बोले- हैकिंग और टैपिंग अपराध चाहे सरकार करे या कोई शख्स