लखनऊ. लोकसभा चुनाव 2019 में अखिलेश यादव की सपा के साथ गठबंधन में चुनाव लड़कर 10 सीट जीतने वाली मायावती की बसपा संगठन में बड़े फेरबदल हुए हैं. मायावती के भाई आनंद को एक बार फिर पार्टी का उपाध्यक्ष बनाया गया है. वहीं अमरोहा सीट पर बहुजन समाज पार्टी का झंडा फहराने वाले कुंवर दानिश अली को लोकसभा में पार्टी का नेता बनाया गया है जबकि जौनपुर से बीएसपी सांसद श्वयाम सिंह यादव को लोकसभा में उप नेता बनाया गया है. वहीं चुनाव सभाओं के दौरान मायावती के साथ साए की तरह साथ दिखने वाले उनके भतीजे आकाश आनंद को बसपा का नेशनल कॉर्डिनेटर बनाया गया है. हालांकि आकाश आनंद के साथ-साथ रामजी गौतम को भी नेशनल कॉर्डिनेटर की जिम्मेदारी सौंपी गई है.

मिली जानकारी के अनुसार, पार्टी में फेरबदल का यह फैसला रविवार को लखनऊ स्थित पार्टी के प्रदेश कार्यालय में मायावती की अध्यक्षता में हुई बैठक में लिया गया है. यूपी की 12 विधानसभाओं में होने वाले उपचुनाव से पहले संगठन की समीक्षा के लिए मायावती ने यह बैठक की थी. जिसमें बहुजन समाज पार्टी के प्रदेश पदाधिकारी के साथ जोनल कॉर्डिनेटर और सभी जिलों के प्रभारी भी मौजूद रहे. सूत्रों की मानें तो बैठक में शामिल होने वाले सभी नेताओं के फोन, पैन कार की चाबी और बैग पहली ही जमा कर लिए गए.

बता दें कि लोकसभा चुनाव में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की बीजेपी से यूपी में सपा-बसपा और आरएलडी गठबंधन को मिली करारी हार के बाद मायावती ने गठबंधन से अलग होने का फैसला कर लिया. मायावती को चुनाव में 80 सीटों से 10 सीटों पर जीत हासिल हुई जबकि अखिलेश यादव की समाजवादी पार्टी सिर्फ 5 सीटों पर ही निबट गई. वहीं अजीत सिंह की रालोद को अपनी तीनों सीट पर हार का मुंह देखना पड़ा. मायावती ने गठबंधन तोड़ते समय कहा कि सपा का वोटर बसपा कैंडिडेट के लिए ट्रांस्फर नहीं हुआ जबकि बसपा के वोटर ने समाजवादी पार्टी कैंडिडेट को पूरा समर्थन दिया. इसलिए पार्टी यूपी विधानसभा के होने वाले उप चुनाव में बिना किसी गठबंधन के चुनाव लड़ेगी.

SP BSP Mahagathbandhan Failed in Lok Sabha Election 2019: मायावती के बाद अखिलेश यादव ने भी माना, लोकसभा चुनाव में यूपी में फेल हुआ SP-BSP गठबंधन

BSP Chief Mayawati on Mahagathbandhan Breakup: सपा अध्यक्ष अखिलेश और डिंपल यादव ने बहुत सम्मान दिया, उनसे रिश्ते अच्छे पर BSP अकेले लड़ेगी विधानसभा उप चुनाव: मायावती

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App