Saturday, February 4, 2023

‘पुलिस बुलाए तो जाना मत और पकड़ में भी आना मत’ कार्यकर्ताओं को शिवपाल ऐसी सलाह क्यों दे रहे हैं?

मैनपुरी. उत्तर प्रदेश की तीन सीटों पर उपचुनाव होना है, ऐसे में प्रदेश में सियासी पारा हाई है. इसी कड़ी में मैनपुरी लोकसभा सीट पर उपचुनाव में प्रचार करने पहुंचे शिवपाल यादव ने अपने कार्यकर्ताओं को एक ख़ास सलाह दे दी है. शिवपाल यादव ने कहा कि अगर कहीं झगड़ा हो रहा हो तो झगड़ा निपटाने के लिए मत चले जाना क्योंकि अगर उसमें पड़े तो सीधा जेल ही चले जाओगे. इतना ही नहीं शिवपाल ने कहा कि अगर पुलिस बुलाए तो भी मत दाना और पुलिस की पकड़ में तो भूलकर भी न आना.

शिवपाल यादव ने कहा कि उनकी लड़ाई भाजपा से नहीं बल्कि पूरी सरकार से है. ये लड़ाई प्रशासन और अधिकारियों से भी है. उन्होंने अपने कार्यकर्ताओं को गुंडागर्दी नहीं करने की भी सलाह दी है. शिवपाल यादव ने कार्यकर्ताओं से अपील की है कि कोई गाली भी दे तो उसे बर्दाशत कर लें लेकिन पुलिस की गिरफ्त में ना आए. उन्होंने कार्यकर्ता से कहा कि कहीं झगड़ा हो रहा हो तो वहां भी झगड़ा खत्म करवाने के लिए न जाएं नहीं तो पुलिस पकड़ लेगी।

चाचा शिवपाल ने अखिलेश को दिया ये नाम

इतना ही नहीं चुनाव प्रचार करते हुए शिवपाल यादव ने जनसभा में अखिलेश यादव को नया नाम दे दिया. उन्होंने कहा कि जिस तरीके से मुलायम सिंह यादव को नेताजी कहकर बुलाया जाता था उसी तरह से आज से अखिलेश यादव को छोटे नेताजी के नाम से बुलाया जाएगा. इस दौरान शिवपाल यादव ने भाजपा के मैनपुरी से उम्मीदवार रघुराज शाक्य की तुलना बैलगाड़ी के नीचे चलने वाले कुत्ते से कर दी. गौरतलब है, मैनपुरी लोकसभा सीट पर मुलायम सिंह यादव के निधन के बाद उपचुनाव हो रहा है. समाजवादी पार्टी ने इस सीट से डिंपल यादव को टिकट दिया है. जबकि भाजपा ने रघुराज सिंह शाक्य पर दांव चला है.

 

इजराइली फिल्म मेकर लैपिड बोले- अश्लील और प्रोपेगेंडा बेस्ड है ‘द कश्मीर फाइल्स

ब्रिटेन में सबसे बड़ी आबादी अल्पसंख्यक होने की ओर जनगणना रिपोर्ट्स में खुलासा : पहली बार आधे से भी कम रह गए ईसाई, 44% बढ़ी मुस्लिमों की जनसंख्या

 

Latest news