चंडीगड़. साल 1966 में एक नवबंर को भारत में एक नया राज्य बना ईस्ट पंजाब से निकलकर हरियाणा अलग हुआ. प्रदेश में पहला लोकसभा चुनाव साल 1967 को हुआ और इस साल प्रदेश में कांग्रेस, भारतीय जनसंघ, इंडियन नेशनल लोकदल (INLD) और सरवित पार्टी मुख्य पार्टियां थीं. आइए जानते हैं कि लोकसभा चुनाव 1967 से लेकर 2019 तक हरियाणा में किस पार्टी ने कितनी सीटें जीतीं, उनका वोट शेयर कितना रहा, राज्य में कितने वोटर्स रहे और कितने प्रतिशत मतदान हुआ.

1. Haryana Lok Sabha Election 1967 Result Summary:

हरियाणा में पहला लोकसभा चुनाव साल 1967 में हुआ और यह चुनाव देश का चौथा लोकसभा चुनाव था. इस चुनाव में हरियाणा में 43 लाख 86 हजार 711 मतदाता थे और 72.61 फीसदी मतदान हुआ था. साल 1967 के आम चुनाव में हरियाणा की 9 सीटों पर 67 उम्मीदवार चुनावी मैदान में थे. इस चुनाव में 7 सीटों पर कांग्रेस और एक सीट पर भारतीय जनसंघ ने जीत हासिल की इसके साथ ही एक सीट निर्दलीय उम्मीदवार के खाते में आई. पार्टी प्रतिशत के हिसाब से वोटों को देखा जाए तो भारतीय जनसंघ को 19.85 फीसदी और कांग्रेस को 44.06 फीसदी वोट मिलीं. इस चुनाव में केंद्र में कांग्रेस की सरकार बनी.

2. Haryana Lok Sabha Election 1971 Result Summary:

हरियाणा में दूसरा लोकसभा चुनाव साल 1971 में हुआ और यह चुनाव देश का पांचवा लोकसभा चुनाव था. इस चुनाव में हरियाणा में 47 लाख 68 हजार 740 मतदाता थे और 64.35 फीसदी मतदान हुआ था. साल 1971 के लोकसभा चुनाव में हरियाणा की 9 सीटों पर 63 उम्मीदवार चुनावी मैदान में थे. इस चुनाव में 9 सीटों पर कांग्रेस ने उम्मीदवार उतारे थे जिसमें से उसे सात सीट पर जीत दर्ज की थी. इसके साथ ही एक सीट पर भारतीय जनसंघ और एक सीट पर वीएचपी पर जीत हासिल की. हरियाणा में दूसरे लोकसभा चुनाव में प्रतिशत के हिसाब से पार्टी के वोटों के बारे में बताएं तो कांग्रेस को 52.56 फीसदी वोट मिलीं और भारतीय जनसंघ को 11.19 फीसदी वोट मिले. केंद्र में इस बार भी इंदिरा गांधी के नेतृत्व में कांग्रेस की सरकारी बनी.

3. Haryana Lok Sabha Election 1977 Result Summary:

हरियाणा में तीसरा लोकसभा चुनाव साल 1977 में हुआ और यह चुनाव देश का छठा लोकसभा चुनाव था. प्रदेश की जनता के दिल मे चुनाव को लेकर काफी उत्साह दिखा था. इस चुनाव में हरियाणा में 57 लाख 66 हजार 654 मतदाता थे और इस चुनाव में पिछले चुनावों की अपेक्षा मतदाता भी बढ़े थे. इस चुनाव में 73.26 फीसदी मतदान हुआ था. साल 1977 हरियाणा की 10 लोकसभा सीटों पर मतदान हुआ था, इस चुनाव में प्रदेश में एक सीट बढ़ गई थी. इसके साथ ही इस चुनाव में चौधरी चरण सिंह ने भारतीय लोक दल पार्टी की स्थापनी की प्रदेश की 10 सीटों पर अपने प्रत्याशी चुनावी मैदान में उतारे थे. साल 1977 के आम लोकसभा चुनाव में प्रदेश की 10 लोकसभा सीटों पर 50 प्रत्याशी चुनावी मैदान में उतरे और इस चुनाव में बीएलडी ने सभी सीटों पर जीत दर्ज की, बीएलडी को 70.35 फीसदी वोट मिले. वहीं कांग्रेस को 17.95 फीसदी, आएनडी को 6.24 फीसदी वोट मिले. केंद्र में इस बार भी इंदिरा गांधी के नेतृत्व में कांग्रेस की सरकारी बनी.

4. Haryana Lok Sabha Election 1980 Result Summary:

हरियाणा में चौथा लोकसभा चुनाव साल 1980 में हुआ और यह चुनाव देश का सातवां लोकसभा चुनाव था. इस चुनाव में हरियाणा में 69 लाख 12 हजार 965 मतदाता थे और इस बार प्रदेश में मतदान का प्रतिशत गिरा पिछले चुनावों में 73.26 फीसदी मतदान हुआ था लेकिन इस बार 64.76 फीसदी मतदान हुआ. साल 1980 के आम लोकसभा चुनाव में प्रदेश की 10 लोकसभा सीटों पर 137 उम्मीदवार चुनावी मैदान में आए और इस चुनाव में कांग्रेस ने 5, जनता पार्टी (एस) ने 4 और जनता पार्टी ने एक सीट पर जीत हासिल की. इन पार्टियों का वोट प्रतिशत देखा जाए तो कांग्रेस को 32.55 फीसदी वोट मिले और जेएनपी (एस) को 33.52 प्रतिशत वोट मिले. इसके साथ ही जेएनपी को 28.14 प्रतिशत वोट मिले. केंद्र में इस बार भी इंदिरा गांधी के नेतृत्व में कांग्रेस की सरकारी बनी.

5. Haryana Lok Sabha Election 1984 Result Summary:

हरियाणा में पांचवा लोकसभा चुनाव साल 1984 में हुआ और यह चुनाव देश का आठवां आम चुनाव था. इस चुनाव में हरियाणा में 77 लाख 25 हजार 946 मतदाता रहे. इस बार प्रदेश में मतदान का प्रतिशत पिछले चुनावों के अनुसार 2 प्रतिशत बढ़ा, पिछले चुनावों में 64.76 फीसदी मतदान हुआ था लेकिन इस बार 66.84 प्रतिशत मतदान हुआ. हरियाणा की 10 लोकसभा सीटों पर साल 1984 के चुनाव में 200 उम्मीदवार थे और इस चुनाव में प्रदेश में भारतीय जनसंघ पार्टी भारतीय जनता पार्टी बनकर आई. हालांकि प्रदेश की 10 सीटों पर कांग्रेस ने कब्जा किया, पार्टियों का प्रतिशत वोट देखा जाए तो कांग्रेस को 54.95 फीसदी वोट मिले. इसके साथ ही इंडियन नेशनल लोकदल को 19.10 और बीजेपी के खाते में 7.54 फीसदी वोट आए. इस बार कांग्रेस की कमान राजीव गांधी के हाथों में थी और उनके नेतृत्व में भी देश में
कांग्रेस की सरकार बनी.

नोट- साल 1984 में देश में हुए लोकसभा चुनावों में असम और पंजाब में किसी विवाद के कारण मतदान नहीं हुआ था. हालांकि इन दोनों प्रदेशों में साल 1985 में बाद में वोटिंग हुई.

6. Haryana Lok Sabha Election 1989 Result Summary:

हरियाणा में छठा लोकसभा चुनाव साल 1989 में हुआ और यह चुनाव देश का 9वां आम चुनाव था. इस चुनाव में हरियाणा में मतदाताओं की संख्या काफी बढ़ी थी, इस बार प्रदेश में 96 लाख 36 हजार 688 वोटर्स थे और प्रदेश में मतदान का प्रतिशत 64.41 फीसदी रहा. हरियाणा की 10 लोकसभा सीटों पर साल 1989 के चुनाव में 324 उम्मीदवार थे और इस चुनाव में प्रदेश की जनता ने कांग्रेस और जनता दल पर भरोसा किया. साल 1989 के चुनाव में कांग्रेस ने 4 सीटों पर जीत हासिल की और जनता दल ने 6 सीटों पर जीत दर्ज की. प्रतिशत के आधार पर कांग्रेस के खाते में इस चुनाव में 46.15 फीसदी मतदान हुआ, इसके साथ जनता दल के लिए 38.90 फीसदी मतदान हुआ. बीजेपी के लिए तीसरे नंबर पर मतदान हुआ पार्टी को 8.31 फीसदी वोट मिले. इस बार फिर से राजीव गांधी के नेतृत्व में देश में कांग्रेस की सरकार बनी.

7. Haryana Lok Sabha Election 1991 Result Summary:

देश में 16 महीने बाद ही फिर से लोकसभा चुनाव हुए क्योंकि कांग्रेस को जिन पार्टियों ने समर्थन लिया था उन्होंने उनसे वापस ले लिया था. हरियाणा में हुए साल 1991 के लोकसभा चुनावों में 97 लाख 25 हजार 897 मतदाता थे, प्रदेश में वोटिंग का प्रतिशत 65.84 फीसदी रहा था. हरियाणा की 10 लोकसभा सीटों पर साल 1989 के चुनाव में 198 प्रत्याशी चुनावी मैदान में थे. इस साल देश की जनता ने कांग्रेस पर अधिक भरोसा जताया और कांग्रेस के खाते में 9 सीटे आईं और हरियाणा विकास पार्टी के खाते में एक सीट आई. प्रतिशत के आधार पर कांग्रेस को 37.22 फीसदी वोट मिले और जनता पार्टी को दूसरे नंबर पर 25.41 प्रतिशत फीसदी वोट मिले. जनता दल को 12.49 और एचवीपी को 5.35 फीसदी वोट मिले. इस बार केंद्र में कांग्रेस ने गठबंधन के साथ मिलकर सरकार बनाई देश में प्रधानमंत्री के पद के लिए पी वी नरसिम्हा राव का नाम सामने आया.

नोट- इस चुनाव में पंजाब में मतदान नहीं हुआ था और पंजाब में साल 1992 में लोकसभा चुनाव में वोटिंग हुई.

8. Haryana Lok Sabha Election 1996 Result Summary:

साल 1996 में देश का 11वां लोकसभा चुनाव हुआ, हरियाणा में इस बार जनता कुछ अलग करने के लिए तैयार थी. इस बार हरियाणा में 1 करोड़ 11 लाख 52 हजार 856 मतदाता थे और वोट प्रतिशत 70.48 फीसदी रहा. इस चुनाव में हरियाणा की 10 लोकसभा सीटों पर 294 उम्मीदवार चुनावी मैदान में थे. जिसमें बीजेपी ने प्रदेश में 4 सीट, कांग्रेस ने 2, एचवीपी ने 3 और 1 सीट निर्दलीय उम्मीदवार ने जीती थी. वोटों का प्रतिशत देखें तो इस साल 1969 में हुए लोकसभा चुनाव में बीजेपी को 19.74, कांग्रेस को 22.64 और एचवीपी को 15.19 प्रतिशत वोट मिले. इस बार देश में भारतीय जनता पार्टी ने सरकार बनाई और अटल बिहारी वाजपेयी को देश का प्रधानमंत्री बनाया गया है.

9. Haryana Lok Sabha Election 1998 Result Summary:

साल 1998 में देश का 12वां लोकसभा चुनाव हुआ, हरियाणा की जनता बिल्कुल अलग करने के लिए पूरी तरह से तैयार थी. इस चुनाव में हरियाणा में 1 करोड़ 10 लाख 86 हजार 895 मतदाता और प्रदेश में इस बार 68.99 फीसदी वोटिंग हुई. साल 1998 में हरियाणा की 10 लोकसभा सीटों पर 140 प्रत्याशी चुनवी मैदान में आए, जिसमें बीजेपी को एक, बीएसपी (बहुजन समाज पार्टी) को एक, कांग्रेस को तीन, हरियाणा लोकदल को चार सीटों पर जीत मिली है. पार्टियों के वोट प्रतिशत के बारे में बताएं तो कांग्रेस को 26.02 प्रतिशत, एचवीपी को 11.60, एचएलडी को 25.90, बीजेपी को 18.89 प्रतिशत वोट मिले. इस बार देश में बीजेपी की सरकार बनी और अटल बिहारी वाजपेयी प्रधानमंत्री बने.

10. Haryana Lok Sabha Election 1999 Result Summary:

केंद्र में एनडीए की सरकार थी और एक साल बाद ही बहुमत साबित न करने की वजह से सरकार गिई और फिर साल 1999 में दोबार से चुनाव हुए. साल 1999 में देश का 13वां लोकसभा चुनाव हुआ, हरियाणा में चुनाव में 1 करोड़ 10 लाख 38 हजार 955 मतदाता थे और वोटिंग प्रतिशत की बात करें तो प्रदेश में 63.68 फीसदी वोटिंग हुई. साल 1999 में हरियाणा की 10 लोकसभा सीटों पर 114 प्रत्याशी चुनवी मैदान में थे, जिसमें बीजेपी को 5 और इंडियन नेशनल लोकदल को 5 सीटों पर जीत मिली. इस चुनाव में कांग्रेस अपना खाता भी नहीं खोल सकी थी. वहीं पार्टियों के वोट प्रतिशत के बारे में बताएं तो कांग्रेस को 34.93 प्रतिशत, बीजेपी को 29.21, और आईएनएलडी को 28.72 प्रतिशत वोट मिले. इस बार देश में बीजेपी ने फिर से बहुमत हासिल करते हुए सरकार बनाई और अटल बिहारी वाजपेयी प्रधानमंत्री बने.

11. Haryana Lok Sabha Election 2004 Result Summary:

साल 2004 में देश का 14वां लोकसभा चुनाव हुआ, हरियाणा में इस चुनाव में 1 करोड़ 23 लाख 20 हजार 557 मतदाता थे और इस साल मतदान प्रतिशत की बात करें तो प्रदेश में 65.72 फीसदी वोटिंग हुई. साल 2004 में हरियाणा की 10 लोकसभा सीटों पर 160 प्रत्याशी चुनवी मैदान में थे, जिसमें बीजेपी के खाते में 1 और कांग्रेस के खाते में 9 सीट आईं. अगर इस साल के चुनाव में पार्टियों के वोट प्रतिशत के बारे में बताएं तो कांग्रेस को 42.13 प्रतिशत, बीजेपी को 17.21 प्रतिशत और आईएनएलडी को 22.43 प्रतिशत वोट मिले. इस बार देश में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के नेतृत्व में यूपीए की सरकार बनी.

12. Haryana Lok Sabha Election 2009 Result Summary:

साल 2009 में देश का 15वां लोकसभा चुनाव हुआ, हरियाणा में इस चुनाव में 1 करोड़ 20 लाख 87 हजार 710 मतदाता थे और इस साल मतदान प्रतिशत की बात करें तो प्रदेश में 67.46 फीसदी वोटिंग हुई. साल 2009 में हरियाणा की 10 लोकसभा सीटों पर 210 प्रत्याशी चुनवी मैदान में थे, जिसमें बीजेपी अपना खाता भी नहीं खोल सकी थी. प्रदेश की 10 सीटों में से एक सीट हरियाणा जनहित कांग्रेस और 9 सीट कांग्रेस के खाते में आईं. अगर इस साल के चुनाव में पार्टियों के वोट प्रतिशत के बारे में बताएं तो कांग्रेस को 41.77 प्रतिशत और हरियाणा जनहित कांग्रेस को 10.01 प्रतिशत वोट मिले. इस बार देश में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के नेतृत्व में यूपीए की सरकार बनी और डॉक्टर मनमोहन सिंह को प्रधानंत्री के पद पर नियुक्त किया गया.

13. Haryana Lok Sabha Election 2014 Result Summary:

साल 2014 में देश का 16वां लोकसभा चुनाव हुआ, हरियाणा में इस चुनाव में 1 करोड़ 59 लाख 95 हजार 14 वोटर्स थे और इस साल मतदान प्रतिशत की बात करें तो प्रदेश में 71.45 फीसदी वोटिंग हुई. साल 2014 में हरियाणा की 10 लोकसभा सीटों पर 230 प्रत्याशी चुनवी मैदान में थे, इस बार प्रदेश की जनता ने उलटफेर कर दिया. राज्य में पहली बार बीजेपी को 7 सीटों पर जीत मिली, वहीं कांग्रेस ने एक और आईएनएलडी ने दो सीटों पर जीत दर्ज की. साल 2014 के लोकसभा चुनाव में पार्टियों के वोट प्रतिशत के बारे में बात करें तो बीजेपी को 34.84, कांग्रेस को 22.99, आईएनएलडी को 24.43 और हरियाणा जनहित कांग्रेस को 6.14 प्रतिशत वोट मिले. इस बार देश में कांग्रेस को बुरी तरह से हार मिली और अमित शाह के नेतृत्व में बीजेपी की सरकार बनी और प्रधानमंत्री के लिए नरेंद्र मोदी को चुना गया.

14. Haryana Lok Sabha Election 2019 Result Summary:

साल 2019 में देश का 17वां लोकसभा चुनाव हो रहा है और हरियाणा की 10 लोकसभा सीटों पर छठे चरण में 12 मई को चुनाव होना है. इस बार प्रदेश में कांग्रेस और बीजेपी की कड़ी टक्कर देखने को मिल रही है. लोकसभा चुनाव 2019 के नतीजे 23 मई को आएंगे और हरियाणा में बीजेपी और कांग्रेस के आलवा ओमप्रकाश चौटाला की इंडियन नैशनल लोकदल के भी समर्थक बहुत हैं. हालांकि प्रदेश की 10 सीटों का फैसला 12 मई को ईवीएम में कैद होगा और 23 मई को सभी के सामने आ जाएगा.

Lok Sabha Elections 2004-2019 Uttarakhand Parliamentary Seats Results Winners List: उत्तराखंड में 2004 से 2019 के लोकसभा चुनाव में कांग्रेस, बीजेपी, बसपा, सपा समेत सभी पार्टियों को कितनी सीट और कितना वोट

Lok Sabha Elections 1951-52 to 2019 Bihar Parliamentary Seats Results Winners List: बिहार में 1951-52 से 2019 के लोकसभा चुनाव में कांग्रेस, बीजेपी, आरजेडी, जेडीयू समेत सभी पार्टियों को कितनी सीट और कितना वोट

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App