भोपाल. मध्य प्रदेश में भारत की आजादी के बाद 1951-52 से लेकर 1971 तक हुए पहले पांच लोकसभा चुनावों में कांग्रेस पार्टी का दबदबा रहा. इस दौरान भारतीय जनसंघ (BJS), प्रजा सोशलिस्ट पार्टी (PSP), राम राज्य परिषद, सोशलिस्ट पार्टी और स्वतंत्र पार्टी ने भी मध्य प्रदेश (एमपी) में अपना जनाधार बनाया. इसके बाद 1977 से मध्य प्रदेश में कांग्रेस का वोट शेयर कम होता गया और पहले जनता पार्टी और बाद में भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने राज्य में अपना प्रभुत्व कायम किया. 1989 से लेकर अब तक के आम चुनाव में कांग्रेस और बीजेपी ही प्रमुख पार्टियां रहीं. साथ ही कुछ क्षेत्रों में बहुजन समाज पार्टी (BSP) भी कांग्रेस-बीजेपी के टक्कर में उतरी. आइए जानते हैं कि मध्य प्रदेश (एमपी) में 1951-52 से लेकर 2019 तक हुए सभी लोकसभा चुनावों में कितने वोटर्स थे, कितने प्रतिशत मतदान हुआ, किस पार्टी को कितनी सीटें मिलीं और उनका वोट शेयर कितना रहा.

1. Madhya Pradesh Lok Sabha Election 1951-52 Result Summary:
देश के पहले लोकसभा चुनाव के वक्त मध्य प्रदेश में कुल 29 सीटें थीं. 1951-52 में हुए पहले आम चुनाव के दौरान मध्य प्रदेश में 1.10 करोड़ वोटर्स थे और राज्य में 45.98 प्रतिशत मतदान हुआ. लोकसभा चुनाव 1951-52 में एमपी में कुल 109 प्रत्याशी मैदान में उतरे. इस चुनाव में मध्य प्रदेश में कांग्रेस ने 27 लोकसभा सीटों पर जीत दर्ज की. वहीं दो लोकसभा सीटों पर निर्दलीय उम्मीदवार जीतने में कामयाब रहे. इस चुनाव में एमपी में कांग्रेस को 51.63 और सोशलिस्ट पार्टी को 12.20 प्रतिशत वोट मिले. केंद्र में कांग्रेस की सरकार बनी और जवाहरलाल नेहरू प्रधानमंत्री बने.

2. Madhya Pradesh Lok Sabha Election 1957 Result Summary:
1957 के लोकसभा चुनाव से पहले मध्य प्रदेश में भोपाल, बिलासपुर, मध्य भारत और विंध्य प्रदेश प्रांत का विलय हुआ और एमपी में लोकसभा सीटों की संख्या बढ़कर 36 हो गई. 1957 में हुए दूसरे लोकसभा चुनाव में मध्य प्रदेश में करीब 1.40 करोड़ रजिस्टर्ड मतदाता थे और राज्य में 36.77 प्रतिशत वोटिंग हुई. इस चुनाव में राज्य भर में कुल 121 प्रत्याशी खड़े हुए. 1957 के आम चुनाव में मध्य प्रदेश में कांग्रेस ने 35 और हिंदू महासभा (HMS) ने 1 लोकसभा सीट पर जीत दर्ज की. लोकसभा चुनाव 1957 में एमपी में कांग्रेस को 52.10, प्रजा सोशलिस्ट पार्टी (PSP) को 16.10 और भारतीय जनसंघ (BJS) को 13.96 प्रतिशत वोट मिले. हालांकि जनसंघ और प्रजा सोशलिस्ट पार्टी राज्य में एक भी सीट नहीं जीत पाई. 1957 में केंद्र में कांग्रेस ने एक बार फिर पूर्ण बहुमत से सरकार बनाई और जवाहरलाल नेहरू प्रधानमंत्री बने.

3. Madhya Pradesh Lok Sabha Election 1962 Result Summary:
1962 में हुए तीसरे लोकसभा चुनाव के दौरान मध्य प्रदेश में करीब 1.58 करोड़ रजिस्टर्ड वोटर्स थे और राज्य में 44.79 प्रतिशत मतदान हुआ. 1962 में एमपी की 36 लोकसभा सीटों पर कुल 159 प्रत्याशी मैदान में उतरे. 1962 के आम चुनाव में मध्य प्रदेश में कांग्रेस ने 24 और भारतीय जनसंघ ने 3, प्रजा सोशलिस्ट पार्टी ने 3, सोशलिस्ट पार्टी ने 1 और राम राज्य परिषद ने 1 लोकसभा सीट पर जीत दर्ज की. इसके अलावा राज्य की 4 लोकसभा सीटों पर निर्दलीय उम्मीदवारों ने बाजी मारी. लोकसभा चुनाव 1962 में एमपी में कांग्रेस को 39.55, जनसंघ को 17.87 और प्रजा सोशलिस्ट पार्टी को 12.30 वोट मिले. केंद्र में कांग्रेस की सरकार बनी और जवाहरलाल नेहरू फिर प्रधानमंत्री बने.

4. Madhya Pradesh Lok Sabha Election 1967 Result Summary:
चौथे आम चुनाव से पहले मध्य प्रदेश में लोकसभा सीटों की संख्या बढ़कर 37 हो गई. 1967 के लोकसभा चुनाव के दौरान मध्य प्रदेश में करीब 1.83 करोड़ रजिस्टर्ड मतदाता थे और राज्य में 53.46 प्रतिशत वोटिंग हुई. इस चुनाव में एमपी में कुल 174 कैंडिडेट्स मैदान में उतरे. 1967 के आम चुनाव में मध्य प्रदेश में कांग्रेस ने 24, भारतीय जनसंघ ने 10 और स्वतंत्र पार्टी ने 1 लोकसभा सीट पर जीत दर्ज की. वहीं दो लोकसभा सीटों पर निर्दलीय उम्मीदवारों ने बाजी मारी. लोकसभा चुनाव 1967 में कांग्रेस को 40.78 और भारतीय जनसंघ को 29.56 प्रतिशत वोट मिले. केंद्र में एक बार फिर कांग्रेस की सरकार बनी और इंदिरा गांधी प्रधानमंत्री बनीं.

5. Madhya Pradesh Lok Sabha Election 1971 Result Summary:
1971 के लोकसभा चुनाव के दौरान मध्य प्रदेश की 37 लोकसभा सीटों पर 170 प्रत्याशी खड़े हुए. पांचवें लोकसभा चुनाव में एमपी में करीब 1.95 करोड़ रजिस्टर्ड वोटर्स थे और राज्य में 48 फीसदी मतदान हुआ. 1971 के आम चुनाव में मध्य प्रदेश में कांग्रेस ने 21, जनसंघ ने 11 लोकसभा सीटों पर जीत दर्ज की. वहीं 4 सीटों पर निर्दलीय उम्मीदवारों ने बाजी मारी. लोकसभा चुनाव 1971 में एमपी में कांग्रेस को 45.60 और जनसंघ को 33.56 प्रतिशत वोट मिले. केंद्र में कांग्रेस की सरकार बनी और इंदिरा गांधी फिर प्रधानमंत्री बनीं.

6. Madhya Pradesh Lok Sabha Election 1977 Result Summary:
1977 के लोकसभा चुनाव से पहले मध्य प्रदेश में लोकसभा सीटों की संख्या बढ़कर 40 हो गई. छठे आम चुनाव के दौरान मध्य प्रदेश में करीब 2.27 करोड़ मतदाता थे और राज्य में 54.92 प्रतिशत वोटिंग हुई. इस चुनाव में पूरे राज्य में कुल 152 प्रत्याशी मैदान में उतरे. आपातकाल (Emergency) के बाद 1977 में हुए आम चुनाव में कांग्रेस को मध्य प्रदेश में भी बुरी तरह हार का सामना करना पड़ा. इस दौरान एमपी में जनता पार्टी ने 37, कांग्रेस ने 1 और रिपब्लिकन पार्टी (खोबरागड़े) ने 1 लोकसभा सीट पर जीत दर्ज की. वहीं एक लोकसभा सीट निर्दलीय उम्मीदवार के खाते में गई. लोकसभा चुनाव 1977 में मध्य प्रदेश में जनता पार्टी को 57.90 और कांग्रेस को 32.47 प्रतिशत वोट मिले. केंद्र में पहली बार गैर कांग्रेस सरकार बनी और जनता पार्टी के मोरारजी देसाई प्रधानमंत्री बने.

7. Madhya Pradesh Lok Sabha Election 1980 Result Summary:
1980 के लोकसभा चुनाव के दौरान मध्य प्रदेश में करीब 2.51 करोड़ मतदाता थे और राज्य में 51.85 प्रतिशत मतदान हुआ. सातवें आम चुनाव में एमपी की 40 लोकसभा सीटों पर कुल 359 प्रत्याशी खड़े हुए. 1980 के आम चुनाव में मध्य प्रदेश में कांग्रेस पार्टी ने 35 और जनता पार्टी ने 4 लोकसभा सीटों पर जीत दर्ज की. वहीं एक लोकसभा सीट पर निर्दलीय उम्मीदवार ने बाजी मारी. लोकसभा चुनाव 1980 में एमपी में कांग्रेस को 47.20 और जनता पार्टी को 31.59 प्रतिशत वोट मिले. केंद्र में कांग्रेस पार्टी की सरकार बनी और इंदिरा गांधी प्रधानमंत्री बनीं.

8. Madhya Pradesh Lok Sabha Election 1984 Result Summary:
आठवें लोकसभा चुनाव के दौरान मध्य प्रदेश में कुल रजिस्टर्ड वोटर्स की संख्या 2.81 करोड़ थी. 1984 के आम चुनाव में एमपी की 40 लोकसभा सीटों पर 398 प्रत्याशी मैदान में उतरे. 1984 लोकसभा चुनाव में मध्य प्रदेश में 57.53 प्रतिशत मतदान हुआ. इस चुनाव में राज्य में कांग्रेस ने क्लीन स्वीप कर सभी 40 लोकसभा सीटों पर जीत दर्ज की. पहली बार लोकसभा चुनाव लड़ रही भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) राज्य में एक भी सीट नहीं जीत पाई. लोकसभा चुनाव 1984 में कांग्रेस को 57.08 और बीजेपी को 29.99 प्रतिशत वोट मिले. केंद्र में कांग्रेस की सरकार बनी और राजीव गांधी प्रधानमंत्री बने.

9. Madhya Pradesh Lok Sabha Election 1989 Result Summary:
1989 में हुए नौवें आम चुनाव में मध्य प्रदेश की 40 लोकसभा सीटों पर 490 प्रत्याशी खड़े हुए. 1989 के लोकसभा चुनाव में मध्य प्रदेश में करीब 3.68 करोड़ रजिस्टर्ड मतदाता थे और राज्य में 55.21 प्रतिशत वोटिंग हुई. इस चुनाव में एमपी में बीजेपी ने 27, कांग्रेस ने 8 और जनता दल ने 4 लोकसभा सीटों पर जीत दर्ज की. वहीं एक लोकसभा सीट पर निर्दलीय उम्मीदवार ने बाजी मारी. लोकसभा चुनाव 1989 में मध्य प्रदेश में बीजेपी को 39.66, कांग्रेस को 37.72 और जनता दल को 8.28 प्रतिशत वोट मिले. केंद्र में जनता दल के नेतृत्व में गैर-कांग्रेसी सरकार का गठन हुआ और वीपी सिंह प्रधानमंत्री बने.

10. Madhya Pradesh Lok Sabha Election 1991 Result Summary:
1991 के लोकसभा चुनाव के दौरान मध्य प्रदेश में करीब 3.77 करोड़ वोटर्स थे और राज्य में 44.36 प्रतिशत मतदान हुआ. दसवें आम चुनाव में एमपी की 40 लोकसभा सीटों पर 683 प्रत्याशी मैदान में उतरे. इस चुनाव में मध्य प्रदेश में कांग्रेस ने 27 और बीजेपी ने 12 और बहुजन समाज पार्टी (बसपा) ने एक लोकसभा सीट पर जीत दर्ज की. लोकसभा चुनाव 1991 में मध्य प्रदेश में कांग्रेस को 45.34 और बीजेपी को 41.88 प्रतिशत वोट मिले. केंद्र में कांग्रेस ने वाम दलों के समर्थन से सरकार बनाई और पीवी नरसिम्हा राव प्रधानमंत्री बने.

11. Madhya Pradesh Lok Sabha Election 1996 Result Summary:
1996 के लोकसभा चुनाव के दौरान मध्य प्रदेश में 4.39 करोड़ मतदाता थे और राज्य में 54.06 प्रतिशत वोटिंग हुई. इस चुनाव में एमपी की 40 लोकसभा सीटों पर 1,259 प्रत्याशी खड़े हुए. 11वें आम चुनाव में मध्य प्रदेश में बीजेपी ने 27, कांग्रेस ने 8, बसपा ने 2 और कांग्रेस (तिवारी) ने 1 लोकसभा सीट पर जीत दर्ज की. इसके अलावा 2 लोकसभा सीटें अन्य पार्टी और निर्दलीय उम्मीदवार के खाते में गई. लोकसभा चुनाव 1991 में मध्य प्रदेश में बीजेपी को 41.32, कांग्रेस को 31.02 और बसपा को 8.18 प्रतिशत वोट मिले. केंद्र में गैर कांग्रेसी दलों ने मिलकर सरकार का गठन किया और जनता दल (सेक्युलर) के एचडी देवगौड़ा प्रधानमंत्री बने.

12. Madhya Pradesh Lok Sabha Election 1998 Result Summary:
1998 के लोकसभा चुनाव में मध्य प्रदेश में 4.46 करोड़ रजिस्टर्ड वोटर्स थे और राज्य में 61.74 प्रतिशत मतदान हुआ. इस चुनाव में एमपी की 40 लोकसभा सीटों पर 400 प्रत्याशी मैदान में उतरे. 12वें आम चुनाव में मध्य प्रदेश में बीजेपी ने 30 और कांग्रेस ने 10 लोकसभा सीटों पर जीत दर्ज की. लोकसभा चुनाव 1998 में एमपी में बीजेपी को 45.73 और कांग्रेस को 39.40 प्रतिशत वोट मिले. केंद्र में बीजेपी ने अन्य दलों के साथ मिल सरकार बनाई और अटल बिहारी वाजपेयी प्रधानमंत्री बने.

13. Madhya Pradesh Lok Sabha Election 1999 Result Summary:
1999 के लोकसभा चुनाव के दौरान मध्य प्रदेश में 4.69 करोड़ मतदाता थे और राज्य में 54.88 प्रतिशत वोटिंग हुई. 13वें आम चुनाव में एमपी की 40 लोकसभा सीटों पर 344 प्रत्याशी खड़े हुए. इस चुनाव में मध्य प्रदेश में बीजेपी ने 29 और कांग्रेस ने 11 लोकसभा सीटों पर जीत दर्ज की. साथ ही राज्य में बीजेपी को 46.58 और कांग्रेस को 43.91 प्रतिशत वोट मिले. केंद्र में बीजेपी के नेतृत्व वाले एनडीए गठबंधन की सरकार बनी और अटल बिहारी वाजपेयी फिर प्रधानमंत्री बने.

14. Madhya Pradesh Lok Sabha Election 2004 Result Summary:
साल 2000 में मध्यप्रदेश से अलग होकर छत्तीसगढ़ नया राज्य बना और एमपी में लोकसभा सीटों की संख्या घटकर 29 हो गई. 2004 के लोकसभा चुनाव के दौरान मध्य प्रदेश में 3.83 करोड़ वोटर्स थे और राज्य में 48.09 प्रतिशत मतदान हुआ. 14वें आम चुनाव में राज्य में कुल 292 प्रत्याशी मैदान में उतरे. 2004 के आम चुनाव में मध्य प्रदेश में बीजेपी ने 25 और कांग्रेस ने 4 लोकसभा सीटों पर जीत दर्ज की. लोकसभा चुनाव 2004 में एमपी में बीजेपी को 48.13 और कांग्रेस को 34.07 प्रतिशत वोट मिले. हालांकि केंद्र में एनडीए बहुमत से दूर रहा और कांग्रेस के नेतृत्व में यूपीए गठबंधन की सरकार बनी. कांग्रेस नेता मनमोहन सिंह प्रधानमंत्री बने.

15. Madhya Pradesh Lok Sabha Election 2009 Result Summary:
पंद्रहवें आम चुनाव में मध्य प्रदेश की 29 लोकसभा सीटों पर 429 प्रत्याशी खड़े हुए. 2009 के लोकसभा चुनाव के दौरान मध्य प्रदेश में 3.80 करोड़ मतदाता थे और राज्य में 51.17 प्रतिशत वोटिंग हुई. इस चुनाव में एमपी में बीजेपी ने 16, कांग्रेस ने 12 और बसपा ने 1 लोकसभा सीट पर जीत दर्ज की. लोकसभा चुनाव 2009 में मध्य प्रदेश में बीजेपी को 43.45 और कांग्रेस को 40.14 वोट मिले. केंद्र में एक बार फिर यूपीए गठबंधन की सरकार बनी और कांग्रेस नेता मनमोहन सिंह प्रधानमंत्री बने.

16. Madhya Pradesh Lok Sabha Election 2014 Result Summary:
2014 के लोकसभा चुनाव के दौरान मध्य प्रदेश में 4.81 करोड़ वोटर्स थे और राज्य में 61.61 प्रतिशत मतदान हुआ. एमपी की 29 लोकसभा सीटों पर 378 प्रत्याशी खड़े हुए. सोलहवें आम चुनाव में मध्य प्रदेश में बीजेपी ने 27 और कांग्रेस ने 2 लोकसभा सीटों पर जीत दर्ज की. लोकसभा चुनाव 2014 में एमपी में बीजेपी को 54.76 और कांग्रेस को 35.35 प्रतिशत वोट मिले. केंद्र में बीजेपी की सरकार बनी और नरेंद्र मोदी प्रधानमंत्री बने.

17. Madhya Pradesh Lok Sabha Election 2019 Summary:
2019 में मध्य प्रदेश की 29 लोकसभा सीटों पर 29 अप्रैल, 6 मई और 12 मई को तीन चरणों में मतदान हुआ. राज्य में कांग्रेस और बीजेपी दोनों ही प्रमुख पार्टियां अलग-अलग चुनाव लड़ रही हैं. इसके अलावा समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी भी गठबंधन कर एमपी में चुनाव लड़ रही हैं. लोकसभा चुनाव 2019 के नतीजे 23 मई को आएंगे.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App