नई दिल्ली. दिल्ली में रविवार को जनता दल यूनाइटेड की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक का आयोजन किया गया. बैठक के बाद जेडीयू के मुख्य प्रवक्ता और राष्ट्रीय महासचिव केसी त्यागी ने बड़ा ऐलान किया है. त्यागी ने कहा कि चार राज्यों के आगामी विधानसभा चुनाव में जेडीयू अकेले दम पर चुनाव लडेगी. त्यागी ने कहा कि हम मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़, राजस्थान और मणिपुर में अकेले चुनाव लडेंगे, बीजेपी की मदद नहीं करेंगे. इस बैठक में बिहार के मुख्यमंत्री और जेडीयू अध्यक्ष नीतीश कुमार, महासचिव केसी त्यागी समेत सभी मंत्रियों और नेताओं ने हिस्सा लिया.

बैठक में मोदी सरकार के एक देश एक चुनाव के समर्थन में प्रस्ताव पास किया गया. केसी त्‍यागी ने कहा कि राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में प्रस्ताव पारित करके हमने एक देश एक चुनाव का समर्थन किया है, लेकिन ये इतना आसान नहीं है. त्यागी ने कहा कि विधि आयोग को भी स्पष्ट करना चाहते हैं कि हम इसके पक्ष में हैं. कानून में बदलाव की जरूरत होगी.

प्रेस कॉफ्रेंस में केसी त्यागी ने केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह के बयान पर कहा कि संप्रदायिकता से जेडीयू कभी समझौता नहीं करेगा. उन्होंने कहा कि बिहार में जितनी हिंदू, मुसलमान, सिक्ख और ईसाई सुरक्षित हैं उतना देश के किसी भी कोने में सुरक्षित नहीं हैं. गिरिराज सिंह के सांप्रदायिक हिंसा के आरोपियों से जेल में मिलने जाने के सवाल पर त्यागी ने कहा कि केसी त्यागी ने कहा कि गिरिराज सिंह केंद्रीय मंत्री मंडल के सदस्य हैं. इसलिए वह जो कर रहे हैं. वह ठीक नहीं है.

बता दें कि केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने नवादा में सांप्रदायिक हिंसा के मामले में हिंदू नेताओं की गिरफ्तारी पर सरकार पर सवाल खड़े किए हैं. साथ ही नीतीश सरकार के शासन की निंदा की है. उनका कहना है कि शासन और प्रशासन हिंदुओं को दबाने का का कर रही है.

जारी रहेगा बीजेपी-जेडीयू गठबंधन, बिहार में नीतीश कुमार 17 लोकसभा सीटों पर लड़ेंगे चुनाव

नीतीश ने बिहार में बनाये बीजेपी के कई मंत्री, बीजेपी ने दिल्ली में बनाया क्या: जेडीयू

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App