अमृतसर.  पंजाब के अमृतसर स्थित निरंकारी भवन में रविवार को दो बाइकसवार हमलावरों ने ग्रेनेड से हमला किया, जिसमें 3 लोगों की मौत हो गई और दो दर्जन से ज्यादा घायल हो गए. रिपोर्ट्स के मुताबिक हमला उस वक्त हुआ जब अदलीवाल गांव के निरंकारी भवन में एक धार्मिक कार्यक्रम चल रहा था. सूत्रों ने बताया कि दो बाइक पर सवार हमलावरों ने निरंकारी समुदाय के लोगों पर ग्रेनेड से हमला किया. पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने हमले में आतंकी साजिश होने की संभावना से इनकार नहीं किया.

आईजी बॉर्डर रेंज एसपीएस परमार ने बताया, ”ग्रेनेड फेंकने की एक घटना सामने आई है. पुलिस घटनास्थल पर पहुंच गई है. पूरी जानकारी अभी आनी बाकी है.” वहीं डीएसपी कमलदीप सिंह संघा ने 3 लोगों के मरने की पुष्टि करते हुए कहा कि एक घायल की हालत बेहद गंभीर है. इस हमले के बाद दिल्ली स्थित निरंकारी भवन की सुरक्षा और कड़ी कर दी गई है और राजधानी के अलावा पंजाब में भी हाई अलर्ट जारी किया गया है.

घटना पर शोक जताते हुए पंजाब कांग्रेस के अध्यक्ष सुनील जाखड़ ने कहा, मेरी संवेदनाएं पीड़ित परिवारों के साथ हैं. यह पंजाब में माहौल खराब करने वाली घटना है. शांति बरकरार रखने के लिए सभी सुरक्षा एजेंसियों को मिलकर काम करना चाहिए. गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने भी घटना को निंदनीय बताया और कहा कि दोषियों को किसी भी सूरत में बख्शा नहीं जाएगा.

यहां पढ़ें, Amritsar Grenade Attack Nirankari Bhavan LIVE Updates:

Highlights

कांग्रेस नेता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने घटना की निंदा की

कांग्रेस के मीडिया प्रभारी रणदीप सिंह सुरजेवाला ने पंजाब के अमृतसर स्थित निरंकारी भवन में ग्रेनेड अटैक की निंदा की. सुरजेवाला ने हमले में मारे गए लोगों के परिजनों के प्रति संवेदनाएं व्यक्त कीं. उन्होंने लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की. उन्होंने कहा कि दहशतगर्द कभी भी अपने मंसूबों में कामयाब नहीं हो पाएंगे. बताते चलें कि हमले में तीन लोगों की मौत हो गई और दो दर्जन से ज्यादा लोग घायल हुए हैं.

ग्रेनेड अटैक के बाद अमृतसर के निरंकारी भवन की तस्वीरें

पंजाब के अमृतसर स्थित निरंकारी भवन में ग्रेनेड अटैक के बाद की तस्वीरें. हमले में तीन लोग मारे गए और दो दर्जन से ज्यादा लोग घायल हुए हैं. एक शख्स की हालत गंभीर बताई जा रही है. घायलों को नजदीकी अस्पताल में भर्ती कराया गया है. पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने जांच के आदेश दिए हैं. गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने सीएम अमरिंदर सिंह से बात कर घटना के बारे में जानकारी ली. राजनाथ सिंह ने कहा कि दोषियों को किसी भी सूरत में बख्शा नहीं जाएगा.

ब्लास्ट के बाद एेसा था निरंकारी भवन का नजारा

अमृतसर के निरंकारी भवन में हुए ब्लास्ट के बाद वहां का नजारा कुछ एेसा नजर आया. इस घटना में तीन लोगों की मौत हो गई और 15 से ज्यादा घायल हैं. होम सेक्रेटरी और पुलिस के आला अधिकारियों को मौके पर पहुंचने का निर्देश मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने दिया है.

अमृतसर में ग्रेनेड अटैक पर गृह मंत्री राजनाथ सिंह का बयान

गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने अमृतसर स्थित निरंकारी भवन में ग्रेनेड अटैक की घटना पर दुख जताया. उन्होंने कहा कि हिंसा को बढ़ावा देने वाली यह घटना निंदनीय है. राजनाथ सिंह ने हमले में मारे गए लोगों के परिजनों के प्रति संवेदनाएं व्यक्त कीं और घायलों के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की कामना की. गृह मंत्री ने कहा कि उन्होंने पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह से बात कर घटना की जानकारी ली. दोषियों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी.

घायलों का चल रहा इलाज, एक की हालत गंभीर

घटना के बाद घायलों को इस अस्पताल में भर्ती कराया गया है. बताया जा रहा है कि एक घायल की हालत बेहद गंभीर है. तीन लोगों की मौत पहले ही हो चुकी है, जबकि 15 से ज्यादा लोग घायल हैं.

कैप्टन अमरिंदर सिंह ने की कड़ी निंदा

अमृतसर स्थित निरंकारी भवन पर हुए हमले के बाद पंजाब के सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह एक्शन में आ गए हैं. उन्होंने होम सेक्रेटरी और पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों को तुरंत घटनास्थल पर पहुंचकर जांच के निर्देश दिए हैं और मृतकों के परिजनों को 5 लाख मुआवजा देने का एेलान किया है. साथ ही घायलों का इलाज भी मुफ्त में किया जाएगा. वहीं दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कड़ी निंदा की है. उन्होंने ट्वीट कर इसे कायराना हमला बताया.

आईजी बोले- हमले के वक्त थे 250 लोग

आईजी (बॉर्डर) सुरिंदर पाल सिंह परमार ने बताया कि जब हमला हुआ, उस वक्त वहां 250 लोग मौजूद थे. अब तक तीन लोगों की मौत हो चुकी है और 15-20 लोग घायल हैं. शुरुआती रिपोर्ट्स के मुताबिक दो लोग आए और उन्होंने ग्रेनेड से हमला कर दिया.

हाई अलर्ट पर है पूरा पंजाब

पिछले दिनों इनपुट आया था कि जैश-ए-मोहम्मद के 6-7 आतंकवादी राज्य में घुसे हैं और वे फिरोजपुर इलाके में हो सकते हैं. इसके बाद पूरे राज्य को हाई अलर्ट पर रखा गया था. पिछले हफ्ते 4 लोगों ने पठानकोट जिले के माधोपुर इलाके में गनपॉइंट पर एक ड्राइवर से उसकी गाड़ी छीन ली थी.

घटना के बाद आईजी और अन्य पुलिस अफसर मौके पर पहुंचे

निरंकारी भवन पर दो बाइक सवार हमलावरों द्वारा ग्रेनेड फेंके जानेे की घटना के बाद हड़कंप मच गया. आनन-फानन में आईजी और अन्य वरिष्ठ पुलिस अफसर मौके पर पहुंचे. मामले की जांच की जा रही है. फिलहाल हमला किसने किया, यह पता नहीं चल पाया है.

सुनील जाखड़ ने दी संवेदनाएं

घटना की कड़ी निंदा करते हुए पंजाब कांग्रेस के अध्यक्ष सुनील जाखड़ ने पीड़ित परिवारों के प्रति संवेदनाएं जताईं और कहा कि सुरक्षा एजेंसियों को साथ मिलकर शांति बहाल करने के लिए काम करना चाहिए.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App