संभल. नरेंद्र मोदी सरकार के नागरिकता संशोधन के विरोध प्रदर्शन के बीच यूपी के संभल में फैली हिंसा को लेकर पुलिस ने समाजवादी पार्टी के सांसद शफीकुर्रहमान बर्क के खिलाफ एफआईआर दर्ज की है. सपा सांसद के साथ-साथ 30 अन्य लोगों के खिलाफ भी मुकदमा दर्ज किया गया. सपा सांसद के खिलाफ योगी आदित्यनाथ सरकार की कार्रवाई राजनीतिक तूल भी पकड़ सकती है.   

दरअसल, गुरुवार को उत्तर प्रदेश के कई इलाकों में काफी संख्या में लोगों ने नागरिकता संशोधन अधिनियम और एनआरसी के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया. इस दौरान संभल में हिंसा भड़क गई और मौके का फायदा उठाकर असमाजिक तत्वों ने सरकारी बसों में आग लगा दी. वहीं हिंसा की चिंगारी राजधानी लखनऊ तक भी पहुंच गई, जहां पुलिस को लाठीचार्ज और आंसू गैस के गोले का इस्तेमाल करना पड़ा. 

भाजपा के फायरब्रांड नेता और सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सीएए के विरोध प्रदर्शन में हो रही हिंसा पर नाराजगी जताई. उन्होंने कहा कि जो भी असमाजिक तत्व प्रदर्शन को हिंसक रूप दे रहे हैं उनके खिलाफ सरकार कड़ी कार्रवाई करेगी. साथ ही जितनी भी सरकारी संपत्ति का नुकसान हो रहा है उनकी भरपाई भी हिंसा के आरोपियों की प्रॉपर्टी बेचकर की जाएगी.   

Anti CAA Protests Live Updates: यूपी के 14 जिलों में इंटरनेट बंद, संभल से सपा सांसद के खिलाफ FIR दर्ज, दिल्ली की जामा मस्जिद पर 1 बजे CAA के खिलाफ विरोध प्रदर्शन, असम की हालत में सुधार

Citizenship Amendment Act Protest: नागरिकता संशोधन कानून और एनआरसी पर ये है सही जानकारी, प्रदर्शन करने से पहले इन तथ्यों को जरूर पढ़ लें

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर