Friday, December 9, 2022
गुजरात नतीजे (182/182)  हिमाचल नतीजे (68/68) 
BJP - 156 BJP - 25
AAP - 05 CONG - 40 
CONG - 17  AAP - 00
OTH - 04  OTH - 03 
Is gold is going to extinct from world

क्या ख़त्म होने वाला है सारी दुनिया का सोना?

0
क्या ख़त्म होने वाला है सारी दुनिया का सोना? सोने का इस्तेमाल आम इंसानों से लेकर दुनिया भर की सरकारें करती हैं। सोने के बग़ैर...

UP Crime: बीवी ने दोबारा सेक्स करने पर जताया ऐतराज़ तो पति ने गला...

0
UP Crime: उत्तर प्रदेश के अमरोहा ज़िले से रिश्तों को तार-तार करने वाला वाकया निकलकर सामने आ रहा है. जहाँ पर एक पति ने...

दिल्ली: कांग्रेस को लगा बड़ा झटका, MCD चुनाव जीतने वाले पार्षद AAP में शामिल

0
नई दिल्ली. एमसीडी चुनाव के नतीजे आ गए हैं. एमसीडी में आम आदमी पार्टी को पूर्ण बहुमत मिली है. दिल्ली नगर निगम चुनाव के...
MG 4 EV

नए साल पर पेश होने वाली है ये इलेक्ट्रिक कार, मिलेगी 452km की रेंज!

0
MG 4 EV: देश की कार कंपनी एमजी मोटर इंडिया (MG Motor India) अगले साल के आगाज़ में एकदम नई इलेक्ट्रिक कार पेश करेगी।...

Gujarat Muslim Seats: जानिए क्या है गुजरात की मुस्लिम बहुल्य सीटों का हाल?

0
Gujarat Muslim Candidates: गुजरात विधानसभा के नतीजों के बाद साफ़ है कि भारतीय जनता पार्टी ने भारी बढ़त के साथ जीत हासिल की है....

राहुल के बाद पूछताछ में सोनिया ने लिया मोतीलाल का नाम, बोलीं- वही देखते थे हिसाब-किताब

नई दिल्ली, नेशनल हेराल्ड केस में प्रवर्तन निदेशालय ने कांग्रेस की कार्यकारी अध्यक्ष सोनिया गांधी से 3 दिनों तक पूछताछ की, रिपोर्ट्स के मुताबिक पूछताछ के दौरान सोनिया ने ठीक उसी तरह के जवाब दिए, जैसे राहुल गांधी ने पूछताछ के दौरान दिए थे. जांच एजेंसी ने उनसे एसोसिएटेड जर्नल लिमिटेड (AJL) और यंग इंडियन प्राइवेट लिमिटेड से जुड़े वित्तीय लेनदेन के बारे में भी प्रश्न किए.

जवाब में बार-बार आया मोतीलाल वोरा का नाम

इसके जवाब में सोनिया ने भी राहुल की तरह ही ईडी के अधिकारियों को बताया कि वित्त संबंधी सभी मामले मोतीलाल वोरा संभालते थे और वही सारा लेन-देन देखते थे. बता दें कि मोतीलाल वोरा का साल 2020 में निधन हो चुका है और वह कांग्रेस के सबसे लंबे समय तक सेवा देने वाले कोषाध्यक्ष रहे हैं.

ईडी के अधिकारियों ने जब राहुल गांधी से वित्तीय पहलुओं के बारे में सवाल किया था, तब उन्होंने भी अधिकारियों से कहा था कि सभी लेनदेन मोतीलाल वोरा ही देखते थे, वही सारा हिसाब-किताब रखते थे. राहुल और सोनिया गांधी के अलावा कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे और पवन कुमार बंसल ने भी पूछताछ के दौरान ईडी को यही जवाब दिया था.
जांच एजेंसी ने राहुल गांधी से जून में पूछताछ की थी, इस दौरान राहुल गांधी ने ईडी को बताया था कि यंग इंडियन एक गैर-लाभकारी कंपनी है, जिसे कंपनी अधिनियम के विशेष प्रावधान के तहत शुरू किया गया था. रिपोर्ट्स के मुताबिक कांग्रेस नेता ने कहा था कि इसमें से एक पैसा भी नहीं निकाला गया.

बता दें बीते दिन सोनिया गाँधी से दो राउंड में छह घंटे तक पूछताछ की गई थी और आज उनसे चार घंटे पूछताछ की गई है.

 

Latest news