Thursday, December 8, 2022

एमसीडी चुनाव 2022 नतीजे

एमसीडी चुनाव  (250 / 250)  
BJP - 104
CONG - 09
AAP - 134
OTH - 03

लेटेस्ट न्यूज़

Time मैगज़ीन के पर्सन ऑफ द ईयर बने यूक्रेनी राष्ट्रपति जेलेंस्की

0
नई दिल्ली : यूक्रेन के राष्ट्रपति जेलेंस्की को विश्व प्रसिद्ध पत्रिका टाइम ने पर्सन ऑफ द ईयर 2022 बनाया है. बता दें, हर साल...

उत्तराखंड : कोर्ट ने Facebook पर लगाया 50 हजार का जुर्माना, जानिए पूरा मामला

0
नैनीताल : बुधवार (7 दिसंबर) को नैनीताल हाईकोर्ट ने फेसबुक पर 50 हजार का जुर्माना लगाया है. ये जुर्माना सही समय पर जवाब दाखिल...

हैदराबाद : देह व्यापर में धकेली जा रही थीं 14 हज़ार लड़कियां, ऐसे पकड़ा...

0
Hyderabad: हैदराबाद की साइबराबाद पुलिस को देह-व्यापर के गोरकधंधे में एक बड़ी कामयाबी हासिल हुई है. पुलिस ने वेश्यावृत्ति का राजफास करते हुए 17...

इन मंत्रियों पर गिर सकती है गाज! काम से संतुष्ट नहीं PM मोदी, कैबिनेट में हो सकते हैं ये बड़े बदलाव

नई दिल्ली, केंद्रीय कैबिनेट का बहुत जल्द विस्तार होने वाला है. मोदी सरकार के मंत्रियों के काम काज की समीक्षा हो रही है और खबर है कि खराब रिपोर्ट कार्ड वाले मंत्रियों पर गाज गिरने वाली है, केंद्रीय नेतृत्व कई मंत्रियों के काम काज से बिल्कुल संतुष्ट नहीं है. केंद्र सरकार के कामकाज को मंत्रालय ने कागज़ के अलावा ज़मीन पर कितना उतारा है इसका जायजा लिया जा रहा है. बताया जा रहा है कि शिवसेना के एकनाथ शिंदे गुट को भी कैबिनेट में जगह मिल सकती है. शिंदे गुट को दो मंत्री पद मिलेंगे. केंद्र सरकार के दर्जन भर मंत्रियों के परिवर्तन के आसार हैं, वहीं कुछ मंत्रियों के विभाग भी बदले जा सकते हैं.

पिछले साल ही किया था कैबिनेट विस्तार

पिछले साल जुलाई में पीएम मोदी ने कैबिनेट विस्तार किया था, दरअसल साल 2019 में दोबारा सत्ता में आने के बाद ये पहला मंत्रिमंडल का विस्तार था. इसमें 43 सांसदों ने मंत्री पद की शपथ ली थी, इसमें ज्योतिरादित्य सिंधिया, सर्बानंद सोनोवाल समेत 36 नए चेहरे थे, जबकि 7 मौजूदा मंत्री थे. मनसुख मंडाविया को स्वास्थ्य मंत्री बनाया गया था, जबकि सिंधिया को नागरिक उड्डयन मंत्रालय सौंपा गया था. तब रविशंकर प्रसाद, हर्षवर्धन और प्रकाश जावड़ेकर को कैबिनेट से बाहर का रास्ता दिखा दिया गया था.

उस समय 43 में से 15 मंत्रियों ने कैबिनेट मंत्री की शपथ ली, जबकि 28 को राज्य मंत्री बनाया गया. सिंधिया,अनुराग ठाकुर, सोनोवाल, किरण रिजीजू और हरदीप पुरी कैबिनेट मंत्री बने. वहीं मीनाक्षी लेखी, पंकज चौधरी, अनुप्रिया पटेल आदि को राज्य मंत्री बनाया गया.

अब खबर है कि नेतृत्व मंत्रियों के काम से संतुष्ट नहीं है, ऐसे में पार्टी अपने मिशन 2024 पर कोई भी आंच नहीं आने देना चाहती इसलिए बहुत जल्द कैबिनेट में फेरबदल किया जा सकता है. और जिन मंत्रियों के काम से नेतृत्व संतुष्ट नहीं है उन्हें बाहर का रास्ता भी दिखाया जा सकता है.

 

Delhi Excise Case: बीजेपी बोली- ‘अरविंद केजरीवाल का अहंकार टूटेगा, AAP के पास सवालों का नहीं है जवाब’

Latest news