नई दिल्ली. आम आदमी पार्टी समर्थित छात्र संगठन CYSS को विश्वविद्यालय छात्र संघ (डूसू) चुनाव में नोटा से भी कम वोट मिले हैं. CYSS को नोटा से कम वोट मिलने पर कांग्रेस ने आप अध्यक्ष अरविंद केजरीवाल पर निशाना साधा है. कांग्रेस प्रवक्ता अजय माकन ने प्रेस कांफ्रेंस में कहा कि CYSS ने AISA से गठबंधन कर चुनाव लड़ा था लेकिन उनको जो वोट आए वो नोटा दबाने वालों से भी कम हैं. इसके अलावा अजय माकन ने ईवीएम के जरिए डीयू प्रशासन और चुनाव आयोग पर सवाल उठाए. 

अजय माकन ने कहा कि CYSS को सेक्रेट्री और ज्वाइंट सेक्रेट्री के पद पर कुल 13781 वोट मिले हैं. वहीं, नोटा पर 15083 वोट गया है. यानि आम आदमी पार्टी के उम्मीदवार नोटा से भी करीब डेढ़ हजार वोट कम पाए हैं. माकन ने कहा कि ऐसे में अरविंद केजरीवाल को स्पष्ट करना चाहिए कि वोट कटवा पार्टी कौन है. अजय माकन ने ये बातें अरविंद केजरीवाल के उस बयान के जवाब में कहीं जिसमें केजरीवाल ने कांग्रेस को वोट कटवा पार्टी बताया था.

बता दें कि दिल्ली सीएम अरविंद केजरीवाल ने अगस्त में लक्ष्मीनगर मेट्रो स्टेशन के पास आम आदमी पार्टी के पूर्वी दिल्ली लोकसभा क्षेत्र कार्यालय का उद्घाटन करते हुए लोगों को संबोधित किया था. इस उद्घाटन समारोह के दौरान केजरीवाल ने 2014 के बाद से हार का सामना कर रही कांग्रेस को वोट कटवा पार्टी करार दिया था. उन्होंने कहा था कि अब कांग्रेस की हालत ऐसी हो गई है कि उसे वोट देने का मतलब अपना वोट खराब करना रह गया है.  

DUSU चुनाव में वोटों की हेराफेरी से EVM फिर सवालों में, कांग्रेस ने कहा- बैलट पेपर से दोबारा हो चुनाव

डूसू चुनाव 2018: DUSU चुनाव में लहराया ABVP का परचम, अध्यक्ष, उपाध्यक्ष और सयुंक्त सचिव पद पर जीत, सचिव पद पर NSUI

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App