Monday, December 5, 2022

उपराज्यपाल ने AAP नेताओं को भेजा नोटिस, फेक न्यूज़ फैलाने का आरोप

नई दिल्ली. उपराज्यपाल विनय कुमार सक्सेना ने आम आदमी पार्टी (आप) के नेताओं को सोमवार को कानूनी नोटिस भेज दिया है, दरअसल बीते दिनों खादी एवं ग्रामोद्योग आयोग (केवीआईसी) के तत्कालीन अध्यक्ष (एलजी) के कार्यकाल में दुर्गेश पाठक, आतिशी, सौरभ भारद्वाज, सांसद संजय सिंह और जस्मिन शाह की ओर से भ्रष्टाचार के आरोप लगाए गए थे, अब इन आरोपों को झूठा और मानहानि के योग्य मानते हुए उपराज्यपाल ने कानूनी कार्रवाई का फैसला लिया है.

छवि खराब करने की कोशिश की- उपराज्यपाल

आप के नेताओं को भेजे गए नोटिस में उपराज्यपाल ने अपनी छवि खराब करने और फेक न्यूज फैलाने का आरोप लगाया है. आप नेताओं से इस नोटिस पर अगले 48 घंटे में जवाब देने को कहा गया है.
बता दें इससे पहले उपराज्यपाल ने आम आदमी पार्टी (आप) के संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री पर सीधा वार करते हुए कहा था कि अरविंद केजरीवाल हताशा में भटकाव की राजनीति के तहत झूठे आरोपों का सहारा ले कर मुझ पर भ्रष्टाचार के आरोप लगा रहे हैं और अगले कुछ दिनों में अगर मुझ पर या मेरे परिवार पर ऐसे निराधार व्यक्तिगत हमले किए जाते हैं तो मुझे बिल्कुल भी आश्चर्य नहीं होगा.

आम आदमी पार्टी ने उपराज्यपाल पर लगाए ये आरोप

बीते सप्ताह आप विधायक दुर्गेश पाठक ने दिल्ली विधानसभा में उपराज्यपाल पर 1,400 करोड़ रुपये के भ्रष्टाचार में शामिल होने का आरोप लगाया था, पाठक ने उपराज्यपाल पर आरोप लगाते हुए कहा था कि वी.के सक्सेना ने बतौर खादी ग्रामोद्योग आयोग अध्यक्ष 1,400 करोड़ रुपये का घोटाला किया है. ये वाकया 2016 की नोटबंदी का है. पाठक के मुताबिक, नोटबंदी के दौरान मौजूदा उपराज्यपाल ने बड़े पैमाने पर पुरानी नोट बदलवाई थी और नोटबंदी के बाद उन्होंने काले धन को भी सफ़ेद किया था.

 

 

Cyrus Mistry: सीट बेल्ट नहीं लगाने की वजह से हुई साइरस मिस्त्री की मौत? जानें एक्सिडेंट की बड़ी बातें

Latest news