दिल्ली. पंजाब कांग्रेस में पड़ी दरारे अब और बढ़ने लगी हैं. एक-एक कर सभी दिग्गज नेता पार्टी छोड़कर जा रहे हैं. ऐसे में पार्टी की हालत किसी डूबते नाव जैसी हो गई है. बीते दिनों पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने मुख्यमंत्री के पद से इस्तीफ़ा दे दिया था. इस्तीफे के बाद अब कैप्टन ने कांग्रेस के खिलाफ ( Capt Amarinder Singh to leave Congress ) बाग़ी रुख अपना लिया है. बता दें कि कैप्टन ने अपने ट्विटर अकाउंट से कांग्रेस शब्द भी हटा दिया है.

बीजेपी ज्वाइन नहीं कर रहा – कैप्टेन अमरिंदर सिंह

कैप्टेन अमरिंदर सिंह ने कांग्रेस से अपने रास्ते अलग दिए हैं. कैप्टेन ने कांग्रेस छोड़ने पर कहा कि मैंने अपनी स्थिति साफ कर दी है कि मैं इस तरह का अपमान नहीं सह सकेंगे, जिस तरह से मेरे साथ बर्ताव किया गया है वह ठीक नहीं है. हालांकि, उन्होंने यह भी कहा की फिलहाल वे बीजेपी नहीं ज्वाइन कर रहे हैं. लेकिन वो कांग्रेस में भी अब नहीं रह सकते. इतना ही नहीं, कैप्टेन ने अपने ट्विटर डिस्क्रिप्शन से कांग्रेस शब्द भी हटा दिया है. उन्होंने अपने करियर के डिस्क्रिप्शन में पंजाब का पूर्व मुख्यमंत्री और राज्य की सेवा में लगातार काम करने की बात लिखी है.

बता दें कि बीते दिनों अमरिंदर सिंह ने गृह मंत्री अमित शाह से मुलाक़ात की. इस मुलाक़ात के बाद उन्होंने कहा कि वह भले ही पंजाब के मुख्यमंत्री नहीं हैं, लेकिन पंजाब अभी भी उनका है. इसलिए ही गृह मंत्री अमित शाह, राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल से मुलाकात की है. हालांकि, इस मीटिंग के बाद यह अटकलें लगाई जा रही थी कि कैप्टन बीजेपी ज्वाइन कर सकते हैं.

 

यह भी पढ़ें :

Sapna Chaudhary new song : सपना चौधरी का नया गाना रिलीज़, लटकों-झटकों से जीता फैंस का दिल

Lal Bahadur Shastri Jayanti 2021 : ऐसे थे शास्त्री जी, जेब से भरते थे सरकारी मकान का बिजली बिल