पटना, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के देश में CAA (नागरिकता संशोधन क़ानून) लागू करने वाले बयान पर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अपनी दिलचस्प प्रतिक्रिया दी है. दरअसल, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने बीते दिन पश्चिम बंगाल दौरे के दौरान ऐलान किया था कि देश में कोरोना समाप्त होने के बाद नागरिकता संशोधन क़ानून लागू किया जाएगा. अब गृह मंत्री अमित शाह के इस बयान पर जब मीडिया ने नीतीश कुमार से सवाल पूछा तो उन्होंने कहा कि कोरोना संक्रमण फिर से बढ़ने लगा है और इस समय उन्हें ज्यादा चिंता इस बात की है कि लोगों की जान कैसे बचाई जाए.

कोरोना की ज्यादा चिंता है- नीतीश कुमार

दिलचस्प बात ये कि एक तरफ जहां अमित शाह यह दावा कर रहे हैं कि देश में कोविड-19 समाप्त होने के बाद नागरिकता संशोधन क़ानून लागू किया जाएगा, वहीं नीतीश कुमार ने अपने ही अंदाज में उन्हें जवाब देते हुए कह दिया कि अभी तो कोरोना बढ़ रहा है. नीतीश कुमार ने सीएए लागू करने के मुद्दे पर कहा कि “देखिए अब तो जो भी केंद्र का निर्णय होगा, फ़िलहाल तो कोरोना के मामले फिर से बढ़ने लगे हैं. इस समय मुझे ज्यादा चिंता इस बात की है कि कोरोना के मामले बढ़ने लगे तो लोगों की जान कैसे बचाई जाएगी. कोई पॉलिसी की बात होगी, तब हम उसको अलग से देखेंगे, अभी हमने इसे देखा नहीं है.

गौरतलब है कि बिहार में जनता दल यूनाइटेड शुरू से ही नागरिकता संशोधन क़ानून के खिलाफ विरोध करती रही है, मगर अमित शाह के ऐलान के बाद बिहार भाजपा के कई नेता और मंत्री बिहार में भी सीएए लागू करने की बात कर रहे हैं.

ज्ञानवापी मस्जिद सर्वे के लिए पहुंची टीम, दोनों पक्षों ने शुरू की नारेबाजी

SHARE

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर