Sunday, September 25, 2022

नीतीश मंत्रिमंडल का विस्तार, जानें कांग्रेस और अन्य के पाले से किसे मिली कैबिनेट में जगह

पटना, बिहार में नीतीश कुमार की अगुवाई वाली महागठबंधन सरकार का मंगलवार को विस्तार हो गया है. नीतीश की नई कैबिनेट में 31 नेताओं को राज्यपाल फागू चौहान ने मंत्री पद की शपथ दिलाई है, बिहार की नई सरकार में आरजेडी से 16, जेडीयू से 11, कांग्रेस से 2, हम से एक और एक निर्दलीय ने शपथ ली है. जेडीयू के कोटे से एक निर्दलीय विधायक को मंत्री बनाया गया, इस तरह नीतीश के हिस्से में कुल 12 मंत्री पद आए हैं, जबकि आरजेडी के खाते में 16 मंत्री पद आए हैं.

कांग्रेस कोटे के मंत्री

मुरारी लाल गौतम

कांग्रेस कोटे से मुरारी लाल गौतम को मंत्री बनाया गया है. मुरारी लाल गौतम सासाराम जिले के चेनारी विधानसभा सीट से वो विधायक हैं. बिहार में कांग्रेस की दलित राजनीति के रूप में उन्हें कैबिनेट में जगह दी गई है ताकि अपने कोर वोटबैंक को साधा जा सके.

आफाक आलम

कांग्रेस से आफाक आलम को मंत्री बनाया गया हैं, ये चार बार विधायक रह चुके हैं. कांग्रेस के टिकट पर इन्होने साल 2005 से लगातार चुनाव जीता है और विधानसभा में कांग्रेस के उपनेता रहे हैं. कांग्रेस में मुस्लिम चेहरे के तौर पर उन्हें नीतीश मंत्रिमंडल में जगह दी गई है.

मांझी की पार्टी को मिला एक मंत्री पद

जीतनराम मांझी की पार्टी हिंदुस्तान आवाम मोर्चा (हम) से उनके बेटे संतोष सुमन को मंत्रिमंडल में शामिल किया गया है, मांझी महादलित समुदाय से आते हैं और विधान परिषद सदस्य हैं. एनडीए सरकार के दौरान भी मांझी मंत्री थे.

निर्दलीय कोटे से मंत्री

सुमित सिंह

निर्दलीय विधायक सुमित सिंह को भी नीतीश मंत्रिमंडल में जगह दी गई है. सुमित सिंह को उन्हें जेडीयू कोटे से मंत्री बनाया गया है और इससे पहले भी एनडीए सरकार के दौरान सुमित सिंह विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्री रहे हैं. सुमित सिंह बिहार के पूर्व कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह के बेटे हैं और उनके दादा श्रीकृष्णानंद सिंह दो बार चकई से चुनाव जीतकर विधायक रह चुके हैं, सुमित सिंह जमुई जिले की चकिया सीट से निर्दलीय विधायक हैं और अब इन्हें कैबिनेट में स्थान दिया गया है.

 

जम्मू कश्मीर में बड़ा हादसा: ITBP जवानों से भरी बस पलटी, 6 सुरक्षाकर्मी शहीद

Latest news