पटना. बिहार के बाहुबली विधायक अनंत सिंह ने गुरुवार को एक बयान जारी करते हुए कहा है कि वो कोर्ट के सामने सरेंडर करने के लिए तैयार हैंं. उन्होंने कहा है कि वो पुलिस के सामने सरेंडर नहीं करेंगे. उन्हें कानून पर भरोसा है इसलिए कोर्ट के सामने ही सरेंडर करेंगे. पटना पुलिस अनंत सिंह को गिरफ्तारी के लिए ढूंढ रही है. इससे पहले पुलिस पिछले हफ्ते शनिवार रात अनंत सिंह को गिरफ्तार करने उनके पटना स्थित आवास पर पहुंची तो बाहुबली विधायक पुलिस को चकमा देकर फरार हो गए थे. इसके बाद पुलिस ने उनके भाई को पकड़ लिया था. अनंत सिंह की गिरफ्तारी के लिए पुलिस अधिकारी लगातार जगह-जगह छापेमारी कर रहे हैं.

पटना जिले स्थित मोकामा से निर्दलीय विधायक अनंत सिंह के बाढ़ स्थित लदमा गांव में उनके पैतृक घर पर पिछले हफ्ते शुक्रवार को पुलिस ने छापेमारी की थी, जिसमें एके-47 रायफल, हैंड ग्रैनेड, बम और कारतूस समेत कई तरह के हथियार बरामद किए गए थे. छापेमारी के बाद पटना पुलिस ने अनंत सिंह के खिलाफ मामला दर्ज कराया था और छोटे सरकार के नाम से मशहूर बाहुबली विधायक पर गिरफ्तारी की तलवार लटक रही है. अनंत सिंह के खिलाफ आर्म्स एक्ट के तहत मामला दर्ज कराया गया था.

अनंत सिंह का कहना है कि जिस घर से एके 47 मिला है, वहां वह 14 साल से नहीं गए हैं. किसी ने जानबूझकर वहां एके 47 रख दिया है और मुझे फंसाया है. बाहुबली विधायक ने आरोप लगाया कि जेडीयू नेता ललन सिंह उनके खिलाफ साजिश रच रहे हैं और मेरे खिलाफ कार्रवाई उनकी वजह से ही हो रही है. अनंत सिंह ने कहा कि ललन सिंह ने कहा है कि वह उन्हें चुनाव लड़ने लायक नहीं छोड़ेंगे. मैं इस मामले में सीएम नीतीश कुमार से बात करना चाहता हूं, लेकिन वह फोन नहीं उठा रहे हैं और न ही मिलने का समय दे रहे हैं. अनंत सिंह का कहना है कि मेरी पत्नी नीलम देवी ललन सिंह के खिलाफ चुनाव लड़ी थी, जिसका बदला उनसे लिया जा रहा है.

बिहार में अगले साल विधानसभा चुनाव होने हैं. बिहार के सीएम नीतीश कुमार की पार्टी जेडीयू छोड़ने के बाद बाहुबली विधायक अनंत सिंह ने साल 2015 के विधानसभा चुनाव में निर्दलीय प्रत्याशी के तौर पर चुनाव लड़ा था और जीत दर्ज की थी. अनंत सिंह पर भोला सिंह की हत्या की साजिश रचने का आरोप है. वहीं पुलिस इस मामले में अनंत सिंह के खिलाफ सबूत जुटा रही है. वहीं निर्दलीय विधायक अनंत सिंह ने आरोप लगाया है कि उनके खिलाफ साजिश रची जा रही है और नीतीश सरकार चाहती है कि वह चुनाव लड़ने लायक न रहें.

उल्लेखनीय है कि बाहुबली विधायक अनंत सिंह पहले भी जेल जा चुके हैं. हत्या की सुपारी दिए जाने के आरोप में ऑडियो वायरल होने के मामले में उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की संभावना जताई जा रही थी. माना जा रहा है कि अनंत सिंह मामले की जांच का जिम्मा किसी बड़े अधिकारी को सौंपा जा सकता है. अनंत सिंह के खिलाफ कई आपराधिक मुकदमे दर्ज हैं. अनंत सिंह इन दिनों कांग्रेस के काफी करीब हैं और कांग्रेस के लिए बीते लोकसभा चुनाव में प्रचार करते भी दिखे थे.

Bihar MLA Anant Singh Raided: बिहार के बाहुबली विधायक अनंत सिंह के घर पुलिस की छापेमारी, एके-47 समेत कई हथियार बरामद

Anant Singh Likely to Arrest : अनंत सिंह के घर से एके-47 मिलने पर बाहुबली एमएलए पर गिरफ्तारी की तलवार, नीतीश सरकार में फिर जाएंगे जेल!

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App