नई दिल्ली. नागरिकता संशोधन कानून 2019 (CAA) के विरोध में पिछले डेढ़ महीने से दिल्ली के शाहीन बाग में महिलाएं धरने पर बैठी हुई हैं. दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल ने शाहीन बाग की वजह से दिल्ली और नोएडा के बीच सफर करने वाले लाखों यात्रियों को हो रही असुविधा के लिए  बीजेपी को जिम्मेदार ठहराया है. केजरीवाल ने कहा है कि बीजेपी के लोगों को शाहीन बाग जाना चाहिए, प्रदर्शनकारियों से बात करनी चाहिए और रोड ब्लॉक खुलवाना चाहिए. 

बता दें कि 8 फरवरी को दिल्ली में विधानसभा चुनाव होने हैं. अरविंद केजरीवाल भी अब तक शाहीन बाग में प्रदर्शन कर रही महिलाओं से मिलने नहीं पहुंचे हैं. अब जब उन्होंने शाहीन बाग की याद आई भी है तो रोड ब्लॉक होने की वजह से. अरविंद केजरीवाल ने अपने बयान में कहा कि दिल्ली में लाखों लोगों को शाहीन बाग रोड ब्लॉक होने की वजह से तकलीफ का सामना करना पड़ रहा है. बीजेपी के नेता इस पर गंदी राजनीति कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि बीजेपी नेताओं को शाहीन बाग के प्रदर्शनकारियों से बातचीत कर रास्ता खुलवाना चाहिए. 

अरविंद केजरीवाल ने चुनावी सभा में किया शाहीन बाग की वजह से लग रहे जाम का जिक्र

अरविंद केजरीवाल शाहीन बाग क्यों नहीं गए?

शाहीन बाग में प्रदर्शन कर रही महिलाओं से मिलने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल नहीं गए. इस बात पर काफी सवाल भी प्रदर्शनकारियों ने उठाए. हालांकि चाहे उनके ओखला विधायक अमानतउल्ला हों या उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया सभी ने अलग-अलग समय पर शाहीन बाग के समर्थन में बातें कही हैं लेकिन अरविंद केजरीवाल इस मुद्दे से कन्नी काटते रहे.दरअसल अरविंद केजरीवाल को मालूम है कि शाहीन बाग के सभी प्रदर्शनकारी किसी भी कीमत पर बीजेपी को वोट नहीं देंगे. वहीं कांग्रेस को दिल्ली में दोबारा अपनी जड़े जमानी हैं.

मिडिल क्लास की नाराजगी से बचने के लिए दिया बयान?

ऐसे में अरविंद केजरीवाल प्रदर्शनस्थल पर जाकर उन लोगों की नाराजगी मोल नहीं लेना चाहते थे जो इस प्रदर्शन से नाखुश हैं. अब अरविंद केजरीवाल को इस प्रदर्शन की वजह से दिल्ली में लग रहे जाम की चिंता सता रही है. जाहिर है उन्हें नई दिल्ली विधानसभा सीट पर रहने वालेे उन लाखों मतदाताओं का भी ध्यान रखना है जो अपने निजी वाहनों से यात्रा करते हैं. 

ये भी पढ़े, Read Also:

Yog Guru Ramdev On CAA NRC: योग गुरु रामदेव ने सीएए और एनआरसी पर तोड़ी चुप्पी, बोले-अंतरराष्ट्रीय ताकतें समाज को विभाजित करना चाहती हैं

Ashok Gehlot CAA Protest: नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में सड़कों पर उतरे मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, कहा- किसी भी हालत में सीएए और एनआरसी राजस्थान में लागू नहीं होने देंगे

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App