नई दिल्लीः आम आदमी पार्टी (AAP) की नेता और  पूर्वी दिल्ली लोकसभा सीट क्षेत्र की AAP प्रभारी आतिशी मार्लेना ने अपना नाम अब केवल आतिशी कर लिया है. उन्होंने अपने ट्विटर हैंडल से भी अपना सरनेम हटा लिया है. उनका ट्विटर हैंडल जो पहले @Atishimarlena हुआ करता था वह अब @AtishiAAP हो गया है. आतिशी लोकसभा चुनाव 2019 के लिए AAP की ओर से पहली उम्मीदवार घोषित की जा चुकी हैं.

चुनाव व अन्य प्रचार के लिए इस्तेमाल किए जा रहे पोस्टर, बैनर, होर्डिंग और पैम्फलेट में अब केवल आतिशी ही लिखा जा रहा है. यहां तक कि AAP ने अपनी ऑफिशियल वेबसाइट पर भी उन्हें आतिशी ही लिखना शुरू कर दिया है. पार्टी सूत्रों की मानें तो इसके पीछे उड़ी एक अफवाह की वजह से आतिशी का उपनाम हटाया गया है. दरअसल पूर्वी दिल्ली सीट का प्रभारी बनाए जाने के बाद कथित तौर पर बीजेपी ने यह अफवाह उड़ानी शुरू की कि आतिशी ईसाईं परिवार से ताल्लुक रखती हैं.

यह अफवाह हकीकत में अफवाह ही थी क्योंकि आतिशी मूल रूप से पंजाबी राजपूत परिवार से ताल्लुक रखती हैं. पार्टी ने आतिशी से गुजारिश की कि वह चुनाव प्रचार व अन्य सामग्री से अपना सरनेम ‘मार्लेना’ हटा लें. गौरतलब है कि कम्युनिस्ट विचारधारा से प्रभावित आतिशी के पिता विजय सिंह दिल्ली विश्वविद्यालय में प्रोफेसर थे. मार्क्स और लेनिन को मिलाकर बनने वाले शब्द ‘मार्लेना’ को आतिशी ने अपने नाम के साथ जोड़ लिया.

बताते चलें कि आतिशी ने अपनी प्रारंभिक शिक्षा दिल्ली से ही की है. दिल्ली यूनिवर्सिटी से ग्रेजुएशन करने के बाद उन्होंने ऑक्सफोर्ड से भी पढ़ाई की. AAP से जुड़ने के बाद 2013 और 2015 के दिल्ली विधानसभा चुनाव में उन्होंने पार्टी के मैनिफेस्टो के लिए काम किया. आतिशी के काम से प्रभावित होकर मनीष सिसोदिया ने उन्हें अपना सलाहकार बना लिया. वह जुलाई 2015 से अप्रैल 2018 तक मनीष सिसोदिया की सलाहकार के तौर पर काम कर चुकी हैं. कहा जाता है कि दिल्ली की शिक्षा व्यवस्था को सुधारने में आतिशी का अहम रोल है.

AAP को एक और झटका, आशुतोष के बाद आशीष खेतान ने आम आदमी पार्टी से दिया इस्तीफा

 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App