लखनऊ. हाल ही में उत्तर प्रदेश की अखिलेश सरकार ने मंत्रीमंडल में फेरबदल करके अपनी पार्टी की साख सुधारने की कोशिश की है, लेकिन सूबे में पंचायत चुनाव में कई बड़े नेताओं के रिश्तेदारों के हारने से सपा को बड़ा झटका लगा है.

बता दें कि पंचायत चुनाव में सपा ने अपने मंत्रियों, पदाधिकारियों और जान पहचान वालों को बड़े पैमाने पर टिकट दिया था, लेकिन इनमें से ज्यादातर को हार का सामना करना पड़ा है.

सूबे में संभल जिले से सांसद सत्यपाल सैनी की चाची चुनाव हार गई हैं. उन्हें बसपा के राज्यसभा सांसद की पत्नी ने हरा दिया है. उधर कानपुर के चौबेपुर ब्लॉक से सपा विधायक मुनीन्द्र शुक्ला के भाई अपने ही गांव से बीडीसी का चुनाव हार गए हैं.

सपा में हारने वाले उम्मीदवारों की लिस्ट और भी लंबी है. पश्चिमी उत्तर प्रदेश के अमरोहा में कैबिनेट मंत्री महबूब अली की भाभी को हार का सामना करना पड़ा हैं. गनीमत ये रही कि महबूब अली की पत्नि और बेटे की जीत हुई है.

इतना ही नहीं अमरोहा सपा जिलाध्यक्ष विजय पाल सैनी की पत्नी चुनाव हार गई हैं. संभल के असमौली से सपा विधायक पिंकी यादव के पति भी चुनाव हार गए हैं. यहीं से सपा जिलाध्यक्ष फिरोज खां की पत्नी भी चुनाव हार गई हैं. फिलहाल कई सीटों के परिणाम आने अभी बाकी हैं.

 

 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App