नई दिल्ली. गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने केंद्रीय मंत्री वीके सिंह और किरन रिजिजू के विवादित बयानों पर कहा है कि नेता शब्दों के चयन पर ध्यान दें और ऐसे बयान न दें जिसका गलत मतलब निकाला जा सके. राजनाथ ने कहा कि यह कहकर बचा नहीं जा सकता कि बयान का गलत मतलब निकाला गया.
 
राजनाथ ने कहा, ‘हम सत्ता में हैं, हमें बयान देने से पहले बहुत सावधानी बरतनी होगी ताकि किसी को उसका गलत मतलब निकालने का मौका न मिले.’
 
 
फरीदाबाद के सुनपेड़ गांव में दलित परिवार पर हुए हमले को लेकर गृहमंत्री ने कहा कि हरियाणा के सीएम मनोहर लाल खट्टर से दलित हत्याकांड पर बातचीत हुई है और वह सभी जरूरी कदम उठाएंगे.
 
क्या थे विवादित बयान?
केंद्रीय विदेश राज्यमंत्री जनरल वीके सिंह ने सुनपेड़ में हुए दलित बच्चों की मौत पर बयान देते हुए कहा था कि अगर कोई कुत्ते को पत्थर मार दे तो इसके लिए सरकार जिम्मेदार नहीं है. दूसरे मंत्री किरन रिजिजू ने कहा था कि उत्तर भारत के लोगों को नियम तोड़ने में मजा आता है.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App