लखनऊ. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला बोलते हुए कहा कि एसपी सरकार में पुरस्कार लौटाने की नौबत नहीं आएगी. उन्होंने एलान किया कि यश भारती सम्मान पाने वालों को अब राज्य सरकार 50 हजार रुपए की पेंशन देगी.
 
इस माकै पर उन्होंने कहा कि सरकार उत्तर प्रदेश से जुड़े अंतर्राष्ट्रीय खिलाड़ियों को राजपत्रित अधिकारी बनाने की शुरुआत करेगी. देश में बिगड़ते हालात को लेकर मशहूर शायर मुनव्वर राणा, ‘काशी का अस्सी’ के मशहूर लेखक काशीनाथ सिंह, नयनतारा सहगल, अशोक वाजपेयी, उदय प्रकाश, के. सच्चिदानंद, मंगलेश डबराल, राजेश जोशी, सारा जोसेफ समेत अब तक 24 साहित्यकारों ने साहित्य अकादमी को पुरस्कार लौटा दिया है.
 
खेल के साथ न हो राजनीति
मुंबई में भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के कार्यालय पर शिवसेना कार्यकर्ताओं के प्रदर्शन के बारे में उन्होंने कहा कि ऐसा नहीं होना चाहिए. खेल के साथ राजनीति नहीं होनी चाहिए. हर चीज में राजनीति नहीं होनी चाहिए. खेल राजनीति से काफी ऊपर है उसे अलग ही रहने दें. 
 
महंगाई पर बोले अखिलेश
वहीं, महंगाई मुद्दे पर अखिलेश ने केंद्र सरकार पर जमकर निशाना साधा. उन्होंने कहा कि लोकसभा चुनाव के दौरान इन लोगों ने दावा किया था कि इनके पास महंगाई के निपटने का फार्मूला है, तो अब समय आ गया है कि ये लोग इस फार्मूला का इस्तेमाल करें. अब किस बात का इंतजार कर रहे हैं.
 
IANS

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App