मुंबई. शिवसेना भी एमआईएम के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी के समर्थन में उतर गई है. आपको बता दें कि ओवैसी ने सवाल उठाया था कि राजीव गांधी और बेअंत सिंह के हत्यारों और दूसरे आतंकियों को फांसी पर क्यों नहीं लटकाया जाता ? अब श‍िव सेना के मुखपत्र सामना में लिखा गया गया है कि किसी भी जाति या धर्म से ताल्लुक रखने वाले आतंकियों को फांसी की सजा दी जानी चाहिए. पार्टी ने राजीव गांधी और बेअंत सिंह के हत्यारों को फांसी दिए जाने की मांग का समर्थन किया.

हालांकि, मुंबई ब्लास्ट के दोषी याकूब मेमन की फांसी पर राजनीतिक बयानबाजी के लिए शिवसेना ने ओवैसी की आलोचना की. साथ ही, शिवसेना ने दाऊद इब्राहिम और टाइगर मेमन को भी फांसी देने की मांग की. सामना में लिखा गया है, ‘दाऊद और टाइगर मेमन जैसे लोग जब यमलोक जाएंगे, तभी उन आत्माओं को पूर्ण शांति की प्राप्ति होगी और उन्हें मोक्ष मिलेगा.’

गौरतलब है कि गुरुवार सुबह नागपुर जेल में याकूब मेमन को फांसी दी गई थी. फांसी पर शिवसेना ने कहा कि याकूब की जगह पर यदि कोई हिंदू, ईसाई या पादरी होता तो उसे भी फांसी पर लटकाया जाना चाहिए था. 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App