नई दिल्ली. संसद के मॉनसून सत्र की शुरुआत हो चुकी है. पीएम नरेंद्र मोदी संसद भवन पहुंच गए हैं. पीएम ने संसद भवन में मौजूद मीडिया वालों से कहा कि सोमवार को अच्छे माहौल में सर्वदलीय बैठक हुई और उन्हें यकीन है कि इस सत्र में अच्छे फैसले होंगे.
 
उधर कांग्रेस ने साफ कर दिया है कि सुषमा, वसुंधरा और शिवराज सिंह चौहान के इस्तीफे के बगैर वह संसद की कार्रवाई नहीं चलने देंगे, लेकिन सरकार की तरफ से भी किसी भी नेता के इस्तीफे की मांग को सिरे से खारिज कर दिया गया है.

सरकार के मुताबिक, इन नेताओं पर लगे सभी आरोप राजनीति से प्रेरित हैं. पार्टी ने यह भी फैसला किया है कि वह विपक्ष के हमलों के सामने बैकफुट न जाकर आक्रामक रहेगी. बीजेपी इस बात पर भी जोर देगी कि व्यापम और राजस्थान का मामला राज्य का है और इन मुद्दों पर बहस वहां की विधानसभाओं में ही होना चाहिए. इसके लिए लोकसभा या राज्यसभा सही प्लैटफॉर्म नहीं है. इन सबके बीच ललितगेट में अपने ऊपर लगे आरोपों पर खुद विदेशमंत्री संसद में बयान देने को तैयार हैं.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App