लखनऊ: उत्तर प्रदेश चुनाव दिलचस्प होता जा रहा है आरएलडी के बाद अब कांग्रेस और समाजवादी पार्टी का गठबंधन सीट के पेंच में फसकर रह गया है. यूपी बीजेपी अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्य ने कहा है कि SP-कांग्रेस गठबंधन होने से ना बीजेपी की सेहत पर असर पड़ने वाला है और ना टूट जाने से. 
 
 
मौर्य ने कहा कि अखिलेश यादव भारतीय इतिहास के सबसे अक्षम और असफल मुख्यमंत्री रहे हैं. उनसे प्रदेश में हुई उनसे नाकामियों पर से जनता का ध्यान हटाने के लिए इन लोगों ने घर का ड्रामा शूरू कर दिया. यूपी की जनता मुलायम सिंह यादव, अखिलेश यादव और शिवपाल यादव के कूट रचित ड्रामे से कतई भ्रमित होने वाली नहीं है. 
 
 
मौर्य ने आगे कहा कि अखिलेश सरकार के संरक्षण में पूरे 5 साल अपराधियों का राज्य में अराजकता का तांडव रहा है, प्रदेश में सरेआम दुष्कर्म हुए हों या फिर अपराधियों द्वारा पुलिसकर्मियों की लगातार हत्याओं का दौर, यह कलंक सपा के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के माथे से कभी हटने वाला नहीं है.
 
 
सूत्रों के मुताबिक सपा कांग्रेस को 99 सीट देना चाहती है जबकि कांग्रेस 120 सीट से कम पर राजी नहीं है. शनिवार को कांग्रेस के रणनीतिकार प्रशांत किशोर ने अखिलेश से मुलाकात की. हालांकि, दोनों की बातचीत बिना किसी नतीजे के खत्म हो गई. 
 
 
समाजवादी पार्टी के प्रवक्ता नरेश अग्रवाल ने भी खबर की पुष्टि करते हुए कहा कि सीएम अखिलेश कांग्रेस को 100 सीट तक देने को तैयार है लेकिन कांग्रेस 120 सीट से कम में तैयार नहीं है. बता दें कि 403 सदस्यों वाले यूपी विधानसभा के लिए 7 चरणों में चुनाव होने हैं. पहले चरण की वोटिंग 11 फरवरी को है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App