लखनऊ. देश के सबसे बड़े राजनीतिक घराने में मची घमासान के बारे में हर कोई जानता है, लेकिन अब इसी घमासान के बीच उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने अपने पिता और समाजवादी पार्टी के प्रमुख मुलायम सिंह यादव से अलग रहने का मन बना लिया है. अखिलेश ने गृह प्रवेश के लिए शुभ मुहूर्त भी निर्धारित कर लिया है, वह नवरात्र के दौरान ही नए घर में शिफ्ट हो जाएंगे.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
अखिलेश और उनका परिवार के साथ अभी तक मुलायम सिंह यादव के साथ पांच विक्रमादित्य मार्ग पर बने बंगले में रहता था, मुलायम को यह बंगला पूर्व मुख्यमंत्री होने के नाते राज्य सरकार से मिला हुआ था. अखिलेश का बंगला पांच कालिदास मार्ग पर स्थित है, जो कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री का सरकारी आवास होता है, लेकिन अखिलेश कभी भी इस बंगले में नहीं रहे.
 
 
अखिलेश अपने सरकारी आवास का इस्तेमाल काम काज के लिए किया करते हैं या फिर प्रेस कॉन्फ्रेंस के लिए. अखिलेश ने यहां जनता दर्शन के लिए अलग से एक हॉल भी बनवाया है.
 
चार विक्रमादित्य मार्ग पर रहेंगे अखिलेश
सरकारी आवास होने के बाद भी अखिलेश यादव अपनी पत्नी डिंपल यादव और बच्चों के साथ चार विक्रमादित्य मार्ग पर बने अपने नए बंगले में रहने वाले हैं. बंगला बनकर तैयार हो चुका है और खबर है कि यूपी सीएम सात अक्टूबर को ही गृह प्रवेश करने वाले हैं.
 
बात नहीं करते अखिलेश-मुलायम
पार्टी में मची घमासान के बाद मुलायम और अखिलेश के रिश्तों में भी खटास आ चुकी है. दोनों अभी तक एक ही घर में रह रहे हैं, लेकिन खबर है कि दोनों ही एक-दूसरे से बात भी नहीं कर रहे हैं. एक ही घर में रहने के बाद भी दोनों एक-दूसरे से बचते रहते हैं.