नई दिल्ली. राष्ट्रीय जनता दल के बाहुबली नेता मोहम्मद शहाबुद्दीन की जमानत पर सुप्रीम कोर्ट में आज फैसला आ सकता है. राज्य सरकार ने सिवान और आस पास के इलाकों में फैसले के मद्देनज़र सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी है.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
दरअसल सिवान के चर्चित एसिड बाथ डबल मर्डर केस  में शहाबुद्दीन को पटना हाई कोर्ट ने 7 सितंबर को जमानत पर रिहा करने का आदेश दिया था. बिहार सरकार और चांद बाबू (मृतकों के पिता) द्वारा सुप्रीम कोर्ट में दायर की गयी अलग-अलग याचिकाओं पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई चल रही है. पिछली तारीख पर सुप्रीम कोर्ट ने सहाबुद्दीन के वकील राम जेठ मालानी से पूछा था कि ‘आपके मुवक्किल की जमानत क्यों न रद्द की जाये।’
 
मामले की गंभीरता को देखते हुए राज्य सरकार ने पुलिस को अलर्ट पर रहने का आदेश दिया है. आस पास के जिलो की पुलिस को भी स्टैंड बाई पर रखा गया है, ताकि अगर कोर्ट से जमानत रद्द करने का फैसला आये तो शाहबुद्दीन को गिरफ्तार करने में कोई दिक्कत न हो. चाँद बाबू की तरफ से वरिष्ठ वकील प्रशांत भूषण अपनी दलीलें कोर्ट के सामने रखेंगे। उधर बिहार सरकार ने भी वरिष्ठ अधिवक्ता दिनेश द्विवेदी को मामले की सुनवाई के लिए दिल्ली भेजा हैं. जेल से रिहा होने के बाद 10 सितंबर से शाहबुद्दीन सिवान में ही रह रहे है.