लखनऊ. लखनऊ में समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष मुलायम सिंह यादव ने सख्त में लहजे में अखिलेश और शिवपाल के बीच झगड़ा लगभग सुलझा दिया है. पार्टी  कार्यालय में हुई बैठक में फैसला किया गया है कि सीएम अखिलेश यादव शिवपाल से मिलने जाएंगे.

इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर

 
इसके अलावा मुलायम ने गायत्री प्रसाद प्रजापति और राजकिशोर सिंह को भी मंत्रिमंडल में वापस लेने का निर्देश दिया है और शिवपाल के सभी इस्तीफों को भी अस्वीकार कर दिया है. 
 
अब इंतजार है शिवपाल और अखिलेश के बीच होनी वाली मुलाकात का क्योंकि इस बैठक के बाद ही साफ हो पाएगा कि आखिर दोनों के बीच तनातनी शांत हुई है या नहीं. 
 
गौरतलब है कि मुलायम सिंह यादव ने मंत्रिमंडल में प्रजापति और राजकिशोर सिंह की वापसी कराकर जहां शिवपाल को साधने की कोशिश की है. वहीं दीपक सिंघल को दोबारा मुख्य सचिव न बनाने का फैसला कर सीएम अखिलेश के भी इकबाल को बनाए रखा.
 
वहीं इस बात के भी संकेत दिए गए कि जिन ‘बाहरी’ लोगों की वजह से पार्टी में झगड़ा हुआ उनको बाहर का रास्ता दिखाया जाएगा. अब देखने वाली बात यह होगी कि क्या जिन बाहरियों की बात हो रही है उनके खिलाफ सही में कार्रवाई की जाएगी.
 
इसके अलावा एक सवाल यह भी है कि शिवपाल की अगर दोबारा मंत्रिमंडल में वापसी होती है तो क्या उनको वही विभाग दिए जाएंगे जो उनसे छीने गए थे.