लखनऊ. उत्तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी में चल रही तनातनी के बीच आज शिवपाल यादव पार्टी अध्यक्ष मुलायम सिंह यादव से मिलने के लिए लखनऊ पहुंच गए हैं. शिवपाल ने इससे पहले कहा था कि मुलायम सिंह यादव ने उन्हें जो जिम्मेदारियां सौंपी हैं वह उसे निभायेंगे.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
जहां एक ओर शिवपाल मुलायम से मुलाकात कर रहे हैं तो वहीं मुलायम सिंह यादव के चचेरे भाई और पार्टी महासचिव रामगोपाल यादव ने आज मुख्यमंत्री अखिलेश यादव से मुलाकात की. मुलाकात के बाद उन्होंने कहा कि अखिलेश को पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष के पद से हटाना एक गलती थी.
 
 
लखनऊ पहुंचे रामगोपाल ने लखनऊ में कहा, ‘पार्टी में कोई कलह या संकट नहीं है. यदि कुछ होगा भी तो उसे जल्द ही दूर किया जाएगा. सीएम का फैसला लेना स्वाभाविक है, लेकिन अखिलेश को पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष पद से हटना एक गलती जरूर थी. इसके लिए मेरे से कोई राय भी नहीं ले गई.’ 
 
 
पार्टी के अंदर चल रही कलह को सुलझाने के लिए मुलायम सिंह यादव ने बुधवार को दिल्ली में एक बैठक भी आयोजित की थी. बैठक में शिवपाल के साथ-साथ मुख्यमंत्री अखिलेश यादव को भी बुलाया गया था, लेकिन उन्होंने दिल्ली आने में असमर्थता जताई थी.
 
बता दें कि उत्तर प्रदेश में मुलायम सिंह यादव ने जब अखिलेश यादव को प्रदेश अध्यक्ष के पद से हटा के शिवपाल सिंह को यह पद दिया उसके कुछ ही घंटों के बाद अखिलेश ने अपने चाचा मंत्री शिवपाल यादव से पीडब्लूडी समेत 7 मंत्रालय वापस ले लिए थे. इसके अलावा बुधवार को जब पार्टी के वरिष्ठ नेता जब दिल्ली में बैठक में व्यस्त थे तब अखिलेश ने 23 जिलों के डीएम के तबादले कर दिए.