लखनऊ. बॉलीवुड एक्ट्रेस विद्या बालन की साड़ी को लेकर यूपी की राजनीति में संग्राम शुरू हो गया है. दरअसल, विद्या ने ‘समाजवादी पेंशन योजना’ का प्रचार करते वक्त हरे और लाल रंग की साड़ी पहनी है, जिसे लेकर विपक्षी दलों ने बवाल शुरू कर दिया है.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
यूपी सरकार ने विद्या बालन को ‘समाजवादी पेंशन योजना’ का ब्रांड अम्बेसडर बनाया है. विद्या  प्रचार के दौरान जिस साड़ी को पहनी हुई हैं, उसे लेकर विपक्षी दलों ने ऐतराज जताया है. विपक्षी दलों का कहना है कि सरकारी विज्ञापन के दौरान विद्या ने जो साड़ी पहनी है उसमें समाजवादी रंग की छवि नजर आ रही है. विपक्षी दलों का कहना है कि यह विज्ञापन सरकारी खर्चे पर हो रहा है. ऐसे में यूपी सरकार सरकारी पैसे से सपा पार्टी का प्रचार कर रही है.
 
कोई भी किसी भी रंग की साड़ी पहन सकता है
वहीं दूसरी ओर सपा सरकार के मंत्री रविदास मेहरोत्रा ने पूरे मामले पर सफाई देते हुए कहा कि कोई किसी भी रंग का पहन सकता है. हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि यूपी में सपा की सरकार है और स्कीम भी सपा सरकार की ही है, तो नाम भी तो सपा का ही होना चाहिए.