नई दिल्ली. यौन शोषण मामले में फंसे आम आदमी पार्टी के विधायक अमानतुल्लाह खान का इस्तीफा दिल्ली सरकार स्वीकार नहीं करेगी. दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि यह खान परिवार का अंदरुनी मामला है इससे सरकार का कोई लेना-देना नहीं है.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
बता दें कि दो महीने पहले ही उन पर एक महिला ने छेड़खानी का मामला दर्ज करवाया था जिसके बाद उनको जेल भी जाना पड़ा था. वहीं बीते शुक्रवार को भी उनकी एक रिश्तेदार ने विधायक अमानतुल्लाह के खिलाफ यौन शोषण का मामला दर्ज कराया है.
खान के खिलाफ यह शिकायत दिल्ली के जामिया नगर थाने में दर्ज करवाई गई है.
 
जिसमें कहा गया है कि आप विधायक अमानतुल्लाह शारीरिक संबंध बनाने का दबाव बना रहे हैं. इतना ही नहीं पीड़ित महिला ने अपने पति की भी शिकायत की है. पीड़िता का कहना है कि उसके पति भी विधायक के साथ शामिल हैं और उनकी बात मानने के लिए कहते हैं.
 
वहीं मिली जानकारी के मुताबिक महिला ने अपने ससुरालजनों के खिलाफ दहेज का भी मुकदमा दर्ज करवाया है. पुलिस से जुड़े सूत्रों ने बताया है कि विधायक अमानतुल्लाह के खिलाफ छेड़खानी, आपराधिक मानहानि, साजिश रचने, महिला के सम्मान के साथ खिलवाड़, सहित कई धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है.
 
वहीं ये मामला सामने आने के बाद से खान ने सफाई दी है कि उनका बिना वजह निशाना बनाया जा रहा है और दिल्ली वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया था.