लखनऊ. कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी को अपने ससंदीय क्षेत्र अमेठी में विरोध का सामना करना पड़ा. रिपोर्ट्स के मुताबिक राहुल की रैली को रास्ते में ही आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं ने रोक लिया और जमकर नारेबाजी की.
 
महिला प्रदर्शनकारी ने जमकर नारेबाजी की जैसे ‘तीन हजार में दम नहीं, राज्य कर्मचारी किसी से कम नहीं’. ‘हमारी मांगे पूरी करो, चाहे जो मजबूरी हो’. सभी महिलाएं चिल्ला-चिल्लाकर कह रही थीं कि वे राहुल गांधी से मिलना चाहती हैं और उन्हें अपनी परेशानी के बारे में बताना चाहती हैं.
 
मीडिया में आई खबरों के मुताबिक प्रदर्शनकारियों से बात करने के लिए राहुल अपनी कार से बाहर निकले लेकिन मीडिया की दखलअंदाजी को देखते हुए वह वापस कार में बैठ कर चले गएं. इसके बाद राहुल के साथ चल रहे सुरक्षाकर्मियों ने किसी तरह उन महिलाओं को शांत किया और रास्ते से हटाया. हालांकि, बाद में राहुल गांधी से सभी महिलाओं ने मुलाकात की और अपनी मांगों के बारे में लिखकर दिया. राहुल के रैली को रास्ते में लोगों के एक और समूह ने रोक लिया था. वे लोग गांव के ही थे. वे VIP विधायक को अपनी समस्याएं बताना चाहते थे. 
 
बता दें कि राहुल गांधी फिलहाल तीन दिन के दौरे पर अमेठी यानी अपने संसदीय क्षेत्र गए हुए हैं. राहुल पर हमेशा से विपक्षी पार्टियां ये आरोप लगाती हैं कि वह अपने संसदीय क्षेत्र में बहुत कम जाते हैं . इस वजह से इस साल राहुल लगातार अपने संसदीय क्षेत्र अमेठी जा रहे हैं वहीं राहुल के दौैरे को यूपी विधानसभा चुनाव से जोड़ कर देखा जा रहा है.
 
बता दें कि 2014 लोकसभा चुनाव में राहुल के सामने भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) की टिकट पर चुनाव लड़ीं स्मृति ईरानी भले ही चुनाव हार गई हों, लेकिन फिर भी वह लगातार अमेठी जाकर लोगों से मिलती हैं.
 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App