नई दिल्ली. दिल्ली के उपराज्यपाल नजीब जंग के साथ मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की तरकार जगजाहिर है. लेकिन एलजी के नए फैसले से दोनों के बीच की खाई और भी बढ़ सकती है. नजीब जंग ने सरकारी स्कूलों का निर्माण काम देख रहे PWD सचिव और मोहल्ला क्लिनिक देख रहे हेल्थ सचिव को दिल्ली सरकार से हटा दिया है. जबकि राज्य सरकार उपराज्यपाल के इस फैसले के खिलाफ है.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
खबरों के अनुसार दिल्ली के उपराज्यपाल नजीब जंग ने दिल्ली सरकार के हेल्थ सेक्रेटरी तरुण सेन और PWD सेक्रेटरी सर्वज्ञ श्रीवास्तव को हटा दिया है. इनकी जगह चंद्राकर भारती को हेल्थ सेक्रेटरी और अश्वनी कुमार को PWD सेक्रेटरी नियुक्त किया गया.
 
बता दें कि डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने एलजी से मिलकर यह निवेदन किया था कि हाईकोर्ट के आदेश के बाद सारे अधिकार एलजी के हैं इसमें कोई शक नहीं, लेकिन स्कूल निर्माण और फ्लाईओवर के काम में लगे PWD सचिव और मोहल्ला क्लिनिक के काम में लगे हेल्थ सचिव को न हटाया जाए, लेकिन उन्हें हटा दिया गया है.
 

वहीं दिल्ली के हेल्थ और PWD मंत्री सत्येंद्र जैन ने उपराज्यपाल पर दिल्ली के सारे काम रोकने का आरोप लगाया है.  उन्होंने कहा कि 10 दिन पहले डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया एलजी के पास गए थे कि 31 मार्च तक इनके ट्रांसफर न करना ये बहुत अच्छा काम कर रहे हैं.