लखनऊ. यूपी बीजेपी के अध्यक्ष केशव मौर्य ने कहा है कि उत्तर प्रदेश में अगली सरकार बीजेपी की ही बनेगी और राज्य का अगला मुख्यमंत्री बीजेपी का होगा और यूपी से होगा. केशव मौर्य ने हालांकि सीएम के उम्मीदवार के नाम पर ज्यादा न बोलते हुए ये कहा कि सीएम कैंडिडेट पार्टी का संसदीय बोर्ड तय करेगा.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
केशव मौर्य ने इंडिया न्यूज़ के ब्यूरो चीफ अरविंद चतुर्वेदी के साथ खास बातचीत में कहा कि बीजेपी की तरफ से सीएम का प्रत्याशी होगा तो भी और नहीं होगा तो भी, हर हाल में राज्य में अगली सरकार बीजेपी की ही बनेगी. उन्होंने कहा कि कांग्रेस को दिल्ली में सीएम का कैंडिडेट मिल गया लेकिन राज्य में उसका कोई वजूद नहीं है.
 
सपा और बसपा पर प्राइवेट लिमिटेड कंपनी की तरह काम करने का आरोप लगाते हुए मौर्य ने कहा कि सपा और बसपा में जितने नेता नहीं हैं, बीजेपी में उतने बड़े नेता हैं. उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में बीजेपी का मुकाबला समाजवादी पार्टी से है. केशव मौर्य ने 2014 के आम चुनाव में यूपी से बीजेपी को मिलीं ज्यादातर सीटों का हवाला देते हुए कहा कि 2017 में बीजेपी वही जीत दोहराएगी और राज्य में अकेले अपने दम पर सरकार बनाएगी. 
 
केशव मौर्य ने कहा कि उनकी पार्टी के लिए राम जन्मभूमि आस्था का विषय है, वोट का नहीं. उन्होंने कहा कि अगर अखिलेश यादव भी राम मंदिर बनाने की बात करते हैं तो हम उनका समर्थन करेंगे. उन्होंने कहा कि अखिलेश यादव और मायावती बुरी तरह घबराए हुए हैं क्योंकि उन्हें पता है कि वो हार रहे हैं.
 
केशव मौर्य ने कहा कि अखिलेश यादव देश के इतिहास में सबसे बेकार मुख्यमंत्री साबित हुए हैं. उन्होंने कहा कि राज्य में 150 पुलिसकर्मी मारे जा चुके हैं और हाल ये है कि पुलिस अपराधियों से डर रही है. उन्होंने कहा कि बीजेपी का नारा है कि उत्तर प्रदेश को सपा और बसपा से मुक्त करना है. 
 
केशव मौर्य ने अपने चाय की दुकान के दिन याद करते हुए कहा कि जिन लोगों को भी उन्होंने चाय पिलाया था आज वो उन्हें आशीर्वाद देते हैं. उन्होंने कहा कि एक समय उनके परिवार को दो वक्त का भोजन नसीब नहीं होता था और आज वो इतनी बड़ी पार्टी में विधायक हैं और उसके प्रदेश अध्यक्ष हैं. 
 
खुद को संघ का स्वयंसेवक बताते हुए केशव मौर्य ने कहा कि चुनाव की तैयारियों में उनकी पार्टी सपा और बसपा से बहुत आगे है. उन्होंने कहा कि बीजेपी के कार्यकाल में सुशासन रहता है और अगले साल राज्य में सुशासन कायम होगा. उन्होंने कहा कि अखिलेश यादव ने नौजवानों को धोखा दिया है इसलिए जो नौजवान उनको सत्ता में लाए थे, वही उनको विदा कर देंगे.