नई दिल्ली. हिंदुओं को ज्यादा बच्चे पैदा करने वाले राष्ट्रीय स्वयंसवेक संघ (RSS) प्रमुख मोहन भागवत के बयान को लेकर सोमवार को दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने जमकर निशाना साधा है. केजरीवाल ने कहा है कि हिंदुओं की भावनाओं को भड़काने से पहले भागवत जी को खुद 10 बच्चे पैदा करके उनकी अच्छी परवरिश करके दिखाएं.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
क्या कहा था भागवत ने ?
हिंदुओं की कम होती जनसंख्या पर भागवत ने ज्यादा बच्चा पैदा करने की अपील की थी. भागवत ने कहा था कि कौन सा कानून कहता है कि हिंदुओं की जनसंख्या नहीं बढ़नी चाहिए? ऐसा कुछ भी नहीं है. जब दूसरों की आबादी बढ़ रही है तो उन्हें कौन रोक रहा है? यह मुद्दा व्यवस्था से जुड़ा हुआ नहीं है. ऐसा इस वजह से है कि सामाजिक माहौल ही ऐसा है.
 
शिवसेना ने साधा निशाना
सामना ने अपने संपादकीय में भागवत पर निशाना साधते हुए कहा कि भागवत ने पुराने और दकियानूसी विचार को नए रूप में प्रस्तुत किया. सामना में आगे लिखा कि मुसलमानों की बढ़ती जनसंख्या चिंताजनक है, लेकिन हिन्दुओं को भी बच्चे नहीं बढ़ाने चाहिए, यही विचार देशहित में है. हिन्दू अगर अधिक बच्चों को जन्म देंगे तो पहले ही खस्ताहाल में जीने वाले लोग बेरोजगारी, भूख, महंगाई की समस्या से और परेशान होंगे.
 
कांग्रेस ने साधा निशाना
कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने संघ कार्यकर्ताओं को चुनौती देते हुए कहा कि आबादी का बढ़ना धर्म से संबंधित है ही नहीं, यह पूरी तरह से गरीबी से जुड़ी होती है. उन्होंने कहा कि मुस्लिम जनसंख्या बढ़ने की रफ्तार भी कम हो रही है. वहीं गुलाम नबी आजाद ने भी भागवत के बयान की निंदा की उन्होंने कहा कि वह (भागवत) धर्म की ही खाते हैं. वह और क्या बात करेंगे. वह रोजगार की बात करते, महंगाई की बात करते.. मगर वह ऐसा नहीं करते.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App