नई दिल्ली. गाजियाबाद में बीजेपी नेता बृजपाल तेवतिया पर फायरिंग के मामले में यूपी पुलिस ने 4 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है. लेकिन मुख्य आरोपी अभी तक पुलिस की पहुंच से बाहर है.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
बता दें कि बृजपाल तेवतिया पर कुछ हथियारबंद बदमाशों ने अंधाधुंध गोलियां बरसाई थीं.  बुरी तरह जख्मी तेवतिया का इलाज नोएडा के फोर्टिस अस्पताल में चल रहा हैं. गौरतलब है कि इससे पहले पुलिस ने बागपत में तैनात महिला कॉन्स्टेबल सुनीता हसनपुरिया को हिरासत में लिया था.
 
पुलिस ने बताया था कि ऐसा पूछताछ करने के लिए किया गया था। सुनीता राकेश हसनपुरिया की पत्नी है जो पहले दिल्ली पुलिस में था लेकिन फिर बर्खास्त हो गया था और बाद में कुख्यात बदमाश बन गया था। यूपी में एनकाउंटर में राकेश मारा गया था। तेवतिया पर शक था कि उन्होंने इस मामले में मुखबरी की।
 
 
 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App