लखनऊ. बहुजन समान पार्टी सुप्रीमो मायावती पर अभद्र टिप्पणी करने वाले बीजेपी के पूर्व नेता दयाशंकर सिंह की मुश्किलें बढ़ती जा रही हैं. रिपोर्ट्स के मुताबिक अब उनके घर की कुर्की की जा रही है. इससे पहले दयाशंकर के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी किया गया था. बता दें कि दयाशंकर काफी समय से फरार चल रहे हैं.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
देवघर में देखे गए दयाशंकर
दयाशंकर सिंह यूपी पुलिस से फरार चल रहे हैं लेकिन इस बीच वो झारखंड के देवघर मंदिर में देखे गए थे. रिपोर्ट्स के अनुसार दयाशंकर सिंह शनिवार को देवघर पहुंचे और बाबा बैघनाथ मंदिर में पूजा-अर्चना की और मंदिर से उनकी एक तस्वीर सामने आई है.
 
 
क्या है मामला ? 
दयाशंकर सिंह ने मायावती की तुलना वेश्या से कर दी थी जिसके बाद से काफी बवाल मच गया है. बीजेपी ने दयाशंकर से यूपी उपाध्यक्ष का पद छिना लेकिन विवाद न थमने के चलते फिर उन्हें पार्टी से 6 साल के लिए निष्काषित भी कर दिया. यूपी में इस बीच उनके खिलाफ केस भी दर्ज कराया गया और  गैर जमानती वारंट भी जारी किया गया.
 
मायावती ने बोला हमला
देवघर में दयाशंकर के दिखने के बाद मायावती ने बीजेपी पर हमला बोला है. उन्होंने बोला है कि भले ही दुनिया को दिखाने के लिए बीजेपी ने उन्हें पार्टी से निकाल दिया हो लेकिन उन्हें बीजेपी के कई लोग मदद कर रहे हैं. मायावती ने कहा कि दयाशंकर सिंह बीजेपी शासित राज्य में भी छिपे हुए हैं. इसमें उनकी मदद बीजेपी के बड़े-बड़े नेता कर रहे हैं.
 
 
बहुजन समाज पार्टी की प्रमुख मायावती पर अभद्र टिप्पणी करने वाले बीजेपी से निष्काषित दयाशंकर सिंह पर पुलिस का शिकंजा कसता नजर आ रहा है. गैर जमानती वारंट जारी होने के बाद से लगातार फरार चल रहे दयाशंकर के लखनऊ स्थित घर की कुर्की की तयारी की जा रही है. गुरुवार को इलाहबाद हाईकोर्ट की लखनऊ बेंच की ओर से गिरफ़्तारी पर रोक लगाने से इनकार करने के बाद अब पुलिस उसके घर की कुर्की की तैयारी कर रही है.
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter
 
बता दें कि हजरतगंज कोतवाली में केस दर्ज होने के बाद से लगातार दयाशंकर सिंह फरार चल रहे हैं. पुलिस दबिश डालने की बात तो कर रही है, लेकिन उसके हाथ अभी भी खाली ही हैं. अभी पिछले दिनों दयाशंकर सिंह को झारखण्ड के बैद्यनाथ धाम में होने की तस्वीरें मीडिया में आई थीं.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App