नई दिल्ली. कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने नरेंद्र मोदी सरकार पर हमला करते हुए कहा कि यूपीए सरकार ने जम्मू-कश्मीर के हालात में जो सुधार किए थे, उसे बीजेपी सरकार ने मटियामेट कर दिया. राहुल गांधी ने कहा कि कांग्रेस सरकार ने जम्मू-कश्मीर के हालात में जो सुधार किए थे, वह मोदी सरकार की विध्वंसक नीतियों की भेंट चढ़ गया.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
जमीयत उलेमा-ए-हिंद के प्रमुक मौलाना असद मदनी द्वारा आयोजित एक ईद मिलन समारोह के दौरान राहुल ने कहा कि कश्मीर घाटी में हालत से सही ढंग से नहीं निपटने के कारण यह राजनीतिक उथल-पुथल सामने आया है.
 
 
अब तक 30 की मौत
बता दें कि हिजबुल मुजाहिदीन के आतंकवादी बुरहान वानी की मौत के बाद कश्मीर घाटी में व्यापक प्रदर्शनों के दौरान प्रदर्शनकारियों व सुरक्षा बलों के बीच झड़प में 30 से अधिक लोगों की मौत के बाद राहुल की यह टिप्पणी सामने आई है.
 
 
कौन-कौन हुए शामिल
वहीं इस कार्यक्रम में अजीत सिंह (राष्ट्रीय लोक दल), शरद यादव (जद-यू), सीताराम येचुरी (माकपा), अतुल कुमार अंजान (भाकपा), अशोक मलिक (समाजवादी पार्टी), संजय सिंह (आम आदमी पार्टी), जमात-ए-इस्लामी, जमात अहले हदीस, मुस्लिम मजलिस मुशवरात के प्रमुखों के साथ ही बरेलवी संप्रदाय के प्रमुख मौलाना तौकीर रजा ने शिरकत की.
 
 
‘मोदी सरकार ने मटियामेट कर दिया कश्मीर’
राहुल ने कहा कि जब मनमोहन सिंह प्रधानमंत्री थे, तो उन्होंने जम्मू-कश्मीर पर ध्यान केंद्रित किया और सालों की कड़ी मेहनत के बाद हम आतंकवाद प्रभावित राज्य में शांति कायम करने में कामयाब हुए. उन्होंने आरोप लगाया कि हालात से ढंग से नहीं निपटने के कारण जो भी सुधार आया था, उसे मोदी सरकार ने मटियामेट कर दिया.
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter
 
‘मैंने जेटली से बात की थी’
राहुल ने कहा कि कुछ महीने पहले जब वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) विधेयक को लेकर उन्होंने केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली से मुलाकात की थी, तब उन्हें कश्मीर की चिंता से अवगत करा दिया था. उन्होंने कहा, “लेकिन जेटली ने मेरे विचारों को खारिज कर दिया और दावा किया कि सब कुछ नियंत्रण में है.”

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App