नई दिल्ली. दिल्ली में औरंगजेब रोड के बाद अब अकबर रोड का नाम बदलने की तैयारी दिख रही है. विदेश राज्यमंत्री और पूर्व सेना प्रमुख जनरल वीके सिंह ने केंद्रीय शहरी विकास मंत्री वेंकैया नायडू को पत्र लिखकर अकबर रोड का नाम बदलकर महाराणा प्रताप मार्ग करने की मांग की है.
 
वीके सिंह ने नायडू को पत्र में लिखा है कि महाराणा प्रताप का मुगलों को रोकने में अहम रोल था और वो एक सेकुलर राजा थे जिनकी सेना में भील, आदिवासी और दूसरी जाति के लोग भी थे. उन्होंने पत्र में कहा है कि लूटियन जोन में मुगलों के नाम पर बहुत सड़कें हैं लेकिन महाराणा प्रताप और शिवाजी जैसे देशभक्तों के नाम पर नहीं.
 
स्वामी भी समर्थन में, बोले- मुगलों के नाम पर है ज्यादातर सड़कें
 
वीके सिंह के इस पत्र पर बीजेपी के चर्चित नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने कहा है कि दिल्ली में बाबर, अकबर, हुमायूं, औरंगजेब, शाहजहां जैसों के नाम पर सड़क है लेकिन देश के उन सपूतों के नाम पर नहीं है जिन्होंने मातृभूमि के लिए जान दी. 
 
अकबर रोड पर देश की सबसे पुरानी पार्टी कांग्रेस पार्टी का दफ्तर है जिसका पता है 24, अकबर रोड. इससे पहले बीजेपी सांसद महेश गिरि और मीनाक्षी लेखी के आग्रह के बाद नई दिल्ली नगरपालिका परिषद ने ओरंगजेब रोड का नाम बदलकर एपीजे अब्दुल कलाम रोड कर दिया था जिस पर काफी बवाल हुआ था.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App