राहा. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को असम विधानसभा चुनाव के लिए बीजेपी का प्रचार करते हुए शुक्रवार को कहा कि राज्य में पहले चरण के मतदान के बाद मुख्यमंत्री तरुण गोगोई की मुस्कान गायब हो गई है.

नागांव जिले में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए मोदी ने यह भी कहा कि कांग्रेस नेतृत्व चुनाव में पार्टी को हार से नहीं बचा पाएगा. यहां दूसरे और अंतिम दौर का मतदान सोमवार को होना है. असम की 61 विधानसभा सीटों के लिए सोमवार को दूसरे और आखिरी चरण का मतदान होगा.

मोदी शुक्रवार को यहां पहुंचे. गुवाहाटी स्थित कामख्या मंदिर में दर्शन के बाद रैली को हिन्दी में संबोधित करते हुए उन्होंने कहा, “मैं पहले चरण के मतदान में बड़ी संख्या में वोट डालने के लिए असम की जनता को धन्यवाद देता हूं.”

उन्होंने कहा, “आपने गौर किया होगा कि पहले चरण के मतदान के बाद असम के मुख्यमंत्री ने मुस्कराना बंद कर दिया है. अब वह दिल्ली से कांग्रेस नेताओं को उन्हें बचाने के लिए बुला रहे हैं.” उन्होंने 2014 के आम चुनावों का हवाला देते हुए कहा, “लेकिन वे भला (कांग्रेस नेतृत्व) गोगोईजी को कैसा बचा पाएंगे, जो दिल्ली को बचा नहीं पाए?”

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा, “कांग्रेस नेताओं को केवल अपने बेटे-बेटियों की चिंता है.” उन्होंने कहा कि वे सरकार में बदलाव के लिए लोगों की मदद मांगने आए हैं. मोदी ने कहा कि उन्होंने भारत में कोई दूसरा राज्य नहीं देखा, जहां उनके दावे के मुताबिक सारी आबादी गरीबी रेखा के नीचे (बीपीएल) हैं.

उन्होंने कहा, “देश में कई राज्य हैं, जहां 20-30 प्रतिशत आबादी गरीबी रेखा के नीचे रहती है. लेकिन असम में कांग्रेस ने राज्य की पूरी आबादी को गरीब बना दिया है.” असम के लोगों से भाजपा के पक्ष में मतदान की अपील करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि नए साल में प्रदेश में नई सरकार का गठन होना चाहिए. राज्य में चार अप्रैल को हुए पहले चरण के मतदान में 65 विधानसभा सीटों के लिए वोट पड़े। इस दौरान 82.20 फीसदी मतदान हुआ.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App