नई दिल्ली. केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली ने शुक्रवार को असम विधानसभा चुनावों के लिए बीजेपी का विजन डॉक्‍यूमेंट जारी किया. बीजेपी के इस विजन डॉक्‍यूमेंट में सीमा सुरक्षा, घुसपैठ जैसे मुद्दों पर जोर दिया गया है. जेटली ने मुख्यमंत्री तरूण गोगोई पर घुसपैठ को बढ़ावा देने का आरोप लगाया है. बीजेपी ने असम में भारत-बांग्ला सीमा को पूरी तरह सील करने, घुसपैठियों को रोजगार देने वाली कंपनियों से निपटने के लिए कानून बनाने का वायदा किया. 
 
कांग्रेस सरकार को उखाड़ फेंकने का मौका
विजन डॉक्यूमेंट जारी करते हुए अरुण जेटली ने कहा, ‘यह विजन डॉक्यूमेंट 2016-2025 तक असम में विकास का रोडमैप है.’ उन्होंने आगे कहा, ‘यह विधानसभा चुनाव असम से असफल कांग्रेस सरकार को उखाड़ फेंकने का ऐतिहासिक मौका है. हम न सिर्फ यह चुनाव जीतेंगे, बल्कि बीजेपी नीत हमारा गठबंधन इस चुनाव में अप्रत्याशि‍त सफलता हासिल करेगा.’ 
 
‘असम केक युवा की बड़ी शक्ति’
जेटली ने भी विजन डॉक्यूमेंट जारी करते हुए कहा कि असम केक युवा की एक बड़ी शक्ति हैं, इनके सहयोग से राज्य का चहुमुखी विकास होगा. बीजेपी रोजगार के अवसर सृजित करेगी. सभी को स्‍कील डेवपमेंट का प्रशिक्षण दिया जायेगा. कृषि और जल संसाधनों के संरक्षण पर विशेष जोर रहेगा.
 
असम को नई पहचान दिलाएंगे
बीजेपी ने सर्बानंद सोनोवाल को मुख्यमंत्री पद का दावेदार बनाया है. सोनोवाल ने कहा कि वे असम को दुनिया में नई पहचान दिलाएंगे. उन्होंने कहा कि तरुण गोगाई को राज्य में बार-बार मौका मिला, लेकिन उन्होंने युवाओं को निराश किया. सोनोवाल ने कहा कि कांग्रेस असम को बर्बाद करने में लगी है. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी के दिए मंत्र ‘सबका साथ सबका विकास’ के तहत बीजेपी राज्य में सबको साथ लेकर चल रही है. उन्होंने कहा कि कांग्रेस के शासन में राज्य में विकास की रफ्तार थम गई.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App