पणजी. राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की पुण्यतिथि 30 जनवरी को है, वहीं उनके हत्यारे नाथूराम गोडसे पर आधारित पुस्तक के गोवा में विमोचन के कार्यक्रम पर विवाद शुरू हो गया है. गोवा फारवर्ड पार्टी ने अनूप अशोक सरदेसाई द्वारा लिखित किताब “नाथूराम गोडसे-द स्टोरी ऑफ ऐन एसासिनी” के विमोचन कार्यक्रम में खलल डालने की घोषणा की है. 
 
सरकारी भवन में होगा किताब का विमोचन
अनूप अशोक सरदेसाई की ‘नाथूराम गोडसे- एक हत्यारे की कहानी’ नामक पुस्तक का विमोचन कार्यक्रम मडगांव स्थित सरकारी रवींद्र भवन में रखा गया था और बताया जा रहा है कि पुस्तक का विमोचन बीजेपी नेता और भवन के अध्यक्ष दामोदर नाइक के हाथों होना है. गोवा फारवर्ड पार्टी के महासचिव मोहनदास लोलिएंकर के अनुसार, इस तरह के देश विरोधी काम के लिए सरकारी परिसर का इस्तेमाल रोका जाना चाहिए. अगर सरकार ने नाथूराम गोडसे पर आधारित पुस्तक के विमोचन कार्यक्रम को नहीं रोका तो हम सत्याग्रह करेंगे.
 
बता दें कि 30 जनवरी 1948 को नाथूराम गोडसे ने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की गोली मारकर हत्या कर दी थी.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App