नई दिल्ली. कांग्रेस नेता शकील अहमद ने कहा कि बीजेपी नेता सुब्रह्मण्यम स्वामी के बयान को कोई भी गंभीरता से नहीं लेगा, क्योंकि उन्होंने जो भी कहा, उस पर कभी खरा नहीं उतरे, और आज राम मंदिर पर बयान देने के पीछे उनका एक निजी हित है. वह राज्यसभा सीट के लिए ये सब बोलते हैं. 
 
कांग्रेस महासचिव अहमद ने इस पर कहा कि स्वामी का पिछला इतिहास अच्छा नहीं रहा है, क्योंकि वह जो कहते हैं, उसे कभी नहीं करते. कांग्रेस नेता ने कहा, “वह सभी मुद्दों पर टिप्पणी करते रहे हैं. वह सिर्फ अपने लिए राज्यसभा सीट सुनिश्चित करने के लिए ऐसा कर रहे हैं.” अहमद ने कहा कि उन्होंने स्वामी से व्यक्तिगत तौर पर कहा कि वह राज्यसभा की सीट हासिल करने के लिए ऐसा कर रहे हैं.
 
अहमद ने कहा, “हम एक टीवी चैनल पर एक बहस में हिस्सा ले रहे थे. मैंने उनसे कहा कि उन्हें सिर्फ राज्यसभा की एक सीट के लिए ये सब काम बंद कर देना चाहिए.” उन्होंने कहा कि उसके बाद स्वामी “हंसे और उसके बाद उन्होंने कुछ नहीं कहा.”
 
बता दें कि स्वामी ने शनिवार को दिल्ली विश्वविद्यालय में आयोजित एक संगोष्ठी में कहा कि राम मंदिर का निर्माण विवादित भूमि पर ही होगा और मस्जिद निर्माण के लिए अलग से भूमि आवंटित की जाएगी. उन्होंने कहा, “हम सरयू नदी के उस पार एक मस्जिद निर्मित करेंगे, लेकिन राम मंदिर का निर्माण तयशुदा स्थान पर ही होगा.”

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App