नई दिल्ली. जेडीयू अध्यक्ष शरद यादव राज्यसभा में बीमा बिल पर चर्चा के दौरान दक्षिण भारतीय महिलाओं पर अपनी टिप्पणी को लेकर फंस गए हैं. इस दौरान शरद निर्भया की डॉक्यूमेंट्री बनाने वाली महिला फिल्मकार का जिक्र करते हुए दक्षिण भारतीय महिलाओं पर टिप्पणी कर गए. शरद यादव ने कहा, ‘निर्भया की डॉक्यूमेंट्री के लिए एक गोरी महिला आई और पूरा देश उसके सामने सरेंडर हो गया. वो तिहाड़ में जहां जाना चाहती थी वहां गई. हमारे यहां के एक सांवले आदमी महात्मा गांधी ने इन गोरों को बाहर निकाल दिया लेकिन आज भी आप वैवाहिक विज्ञापन देखें तो गोरी लड़की की ही मांग होती है जबकि साउथ की महिला जितनी ज्यादा खूबसूरत होती है, उतनी ही उसकी बॉडी भी. इतना हमारे यहां नहीं होती है क्योंकि वह नृत्य भी जानती है. हालांकि जेडीयू नेता उनके बचाव में उतर आए हैं.’

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App